Moosewala की रेकी करने वाले बिश्नोई गैंग के सदस्य से पुलिस ने की पूछताछ, गुनाह किया काबुल

लुधियाना: पंजाबी गायक शुभदीप सिंह सिद्धू के कत्ल की रेकी करने वाले लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह के गिरफ्तार सदस्य से क्राइम ब्रांच-2/लुधियाना ने प्रोडक्शन वारंट लेकर सख्ती से पूछताछ की, जिसने पूछताछ के दौरान स्वीकार किया कि सिद्धू मूसवाले की हत्या करते समय वह पिस्तौल के साथ खड़ा था। गुरमीत सिंह उर्फ ​​मीते के निशानदेही पर आज उसके गांव चक खासा, कुलिया, बटाला से पिस्टल व राउंड बरामद किये गए है, जिसकी पूछताछ की जा रही है।

उक्त मुकदमे की जांच के दौरान दिनाक 19.05.2022 को सिद्धू मूसेवाले की हत्या से पहले हथियार सप्लाई करने वाली फॉर्च्यूनर गाड़ी, जो डबवाली, बठिंडा में सीसीटीवी कैमरों में नज़र आई थी, जिसे अजनाला,अमृतसर निवासी सतवीर सिंह पुत्र बलकार सिंह चला रहा था। उस गाड़ी में मनप्रीत सिंह मनी रइया और मनदीप सिंह उर्फ ​​तुफान और उनके साथ तीसरे अज्ञात व्यक्ति की पहचान गुरमीत सिंह उर्फ ​​मीते के रूप में हुई थी, बैठे थे। इसके अलावा दिनाक 29.06.2022 को गोल्डी बराड़ के कहने पर पंजाब में से फॉर्च्यूनर कार में बैठ के बाहर जा रहे सतवीर सिंह, मनप्रीत सिंह मनी रइया, मनदीप सिंह उर्फ़ तूफ़ान और उनके साथ बैठे अज्ञात व्यक्ति, जिसकी पहचान को जांच के सामने आई थी, जिसे बटाला पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किया गया था।

उक्त आरोपी गुरमीत सिंह उर्फ ​​मीते से दिनांक 14.10.2022 को क्राइम ब्रांच-2/लुधियाना ने प्रोडक्शन वारंट लेकर सख्ती से पूछताछ की, जिसने पूछताछ के दौरान स्वीकार किया कि सिद्धू मूसवाले की हत्या करते समय पिस्तौल के साथ खड़ा था। गुरमीत सिंह उर्फ ​​मीते के निशानदेही पर आज उसके गांव चक खासा, कुलिया, बटाला से पिस्टल व राउंड बरामद हुए हैं, जिसकी पूछताछ की जा रही है। आरोपी गुरमीत सिंह मीता राष्ट्रीय स्तर का जैवलिन का खिलाड़ी था, जो पुलिस विभाग में नौकरी करता था और उसे पुलिस विभाग से बर्खास्त हुआ था और चिट्टे के नशे का आदी है।