दिवाली का शगुन देकर लौट रहे एक ही परिवार के 6 सदस्यों की सड़क हादसे में मौत

रेवाड़ी: कोसली के व्यवसायी डा. गोबिंद मखीजा के परिवार में इस समय भारी मातम छाया हुआ है। बेटी को दीपावली का शगुन देकर कार में लौट रहे व्यवसायी के परिवार के 4 सदस्यों की बीती देर सायं हांसी क्षेत्र के गांव बास मदनहेड़ी के पास सड़क हादसे में मौत हो गई। जैसे ही यह समाचार कोसली पहुंचा तो सोमवार को व्यापार मंडल ने बाजार बंद कर दिए और शोक सभा कर पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना जताई। गौरतलब है कि कोसली के व्यवसायी डा. गोबिन्द मखीजा परिवार सहित पिछले 30 वर्षों से कोसली में रह रहे थे।

उन्होंने मुख्य तिराहे पर भिवानी ऑप्टिकल के नाम से अपना कारोबार कर रखा है। वह रविवार को अपनी 50 वर्षीय पत्नी डोली, 26 वर्षीय बेटे साहिल, 50 वर्षीय भाभी रजनी व 11 वर्षीय भतीजे आराध्य के साथ कार में सवार होकर कैथल जिले के कलायत में विवाहित बेटी को दीपावली का शगुन देने के लिए गए थे। सायं वापस लौटते समय हांसी क्षेत्र के गांव बास मदनहेड़ी के समीप एक बेकाबू ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी। इस हादसे में कार में सवार उक्त परिवार के चारों सदस्यों की मौत हो गई और गोबिंद मखीजा गंभीर रूप से घायल हो गए।

टक्कर इतनी भीषण थी कि बेकाबू ट्रक कार को काफी दूर तक घसीटता हुआ ले गया। जिससे उसके परखच्चे उड़ गए। कोसली में आयोजित शोक सभा में सैकड़ों व्यापारियों ने हिस्सा लिया और हृदयविदारक हादसे पर दुख जताया। वहीं उनके पैतृक स्थल भिवानी में सोमवार को उनका अंतिम संस्कार किया गया। जिसमें भारी संख्या में कोसली बाजार के व्यापारियों भी पहुंचे।