लुधियाना: मनपसंद सब्जी न बनाने पर बौखलाया बेटा, बुजुर्ग मां को पीटा, छत से फेंक उतारा मौत के घाट

लुधियाना: कलियुगी बेटे ने मां को छत से नीचे फैंक मौत के घाट उतार दिया। मामला न्यू अशोक नगर, सलेम टाबरी का है। जहां एक युवक ने अपनी मां को इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि घर में उसके मनपसंद की सब्जी नहीं बनी थी। मृतका की पहचान 70 वर्षीय चरणजीत कौर के रूप में हुई है। आरोपी के खिलाफ थाना सलेम टाबरी में मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस का दावा है, आरोपी को जल्दी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

वहीं मृतका के पति गुरचरण सिंह के बताया की उसके दो बेटे हैं। छोटा बेटा सुरिंदर सिंह उर्फ टिंकू काम नहीं करता है। वह आये दिन किसी न किसी बात को लेकर घर में विवाद करता रहता था। सोमवार को भी कुछ ऐसा ही हुआ। दोपहर के समय सुरिंदर सिंह ने खाने के वक्त इसलिए विवाद शुरू कर दिया क्योंकि सब्जी उसके मनपसंद की नहीं बनी थी। उसने चरणजीत कौर के साथ झगड़ना शुरू कर दिया। पहले उसने घर की पहली मंजिल पर चरण्जीत कौर के साथ हाथापाई की और फिर छत से नीचे फैंक दिया। इसके बाद भी उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ, तो उसने गली में भी घायल चरणजीत के साथ मारपीट जारी रखी।

गुरचरण सिंह के अनुसार वह बीच-बचाव के लिए आया तो उस पर भी बेटे ने हमला कर दिया। हमले में उसे भी चोट आई है। मोहल्ला निवासियों की मदद से चरणजीत कौर को सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया। अस्पताल में उपचाराधीन चरणजीत कौर ने मंगलवार को जख्मों के ताव सहन न करते हुए दम तोड़ दिया। उधर, ए.सी.पी. मनिंदर बेदी ने बताया मृतका के पति की शिकायत पर आरोपी सुरिंदर सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

साऊथ सिटी इलाके में पेड़ से लटकता मिला बुजुर्ग का शव

साऊथ सिटी के इलाके से मंगलवार सुबह बुजुर्ग का शव पेड़ से लटकता मिला। मृतक की पहचान गांव अय्याली खुर्द के रहने वाले 70 वर्षीय रजिंदर के रूप में हुई है, जोकि मूल रूप से उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले का रहने वाला था। थाना पी.ए.यू. के जांच अधिकारी ए.एस.आई. रेशम सिंह ने बताया कि मृतक रजिंदर लेबर का काम करता था। मृतक के परिजनों ने बताया कि रजिंदर पिछले कुछ समय से बीमारी से परेशान था। सोमवार की शाम को रजिंदर घर से कहीं चला गया था, जिसके उपरांत परिवार काफी समय तक उसको ढूंढता रहा लेकिन रजिंदर नहीं मिला। मंगलवार की सुबह को रजिंदर का साऊथ सिटी के इलाके में पेड़ के साथ लटकता शव मिला। पुलिस का कहना है कि परिजनों को बयान दर्ज कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।