गैस कीमतें बढ़ने से IGL के मार्जिन पर असर, जुलाई-सितंबर तिमाही में शुद्ध लाभ चार प्रतिशत बढ़ा

नई दिल्ली: दिल्ली-NCR क्षेत्र में सीएनजी और रसोई गैस की खुदरा बिक्री करने वाली कंपनी इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में अपने शुद्ध लाभ में 4% की वृद्धि दर्ज की है। प्राकृतिक गैस की कीमतें बढ़ने से उसके मार्जिन पर असर देखा गया। एक बयान में IGL ने कहा कि जुलाई-सितंबर तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 416.15 करोड़ रुपए रहा जबकि एक साल पहले की समान तिमाही में उसे 400.54 करोड़ रुपये का लाभ हुआ था।

आलोच्य तिमाही में IGL का राजस्व करीब दोगुना होकर 3,922.02 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। पिछले साल की समान तिमाही में उसने 2,015.99 करोड़ रुपए का राजस्व कमाया था। इस साल फरवरी में यूक्रेन पर रूस के हमला करने के बाद से प्राकृतिक गैस की कीमतें करीब दोगुनी हो चुकी हैं। इसकी वजह से IGL का गैस खरीद पर व्यय 929.97 करोड़ रुपए से बढक़र 2,610.03 करोड़ रुपये हो गया। बीती तिमाही में कंपनी की कुल बिक्री एक साल पहले की तुलना में 12 प्रतिशत बढ़ गई और इसकी दैनिक बिक्री 80.9 लाख घन मीटर प्रतिदिन पर पहुंच गई। इस दौरान CNG की बिक्री मात्रा में 15 प्रतिशत की बढ़त देखी गई जबकि पाइप से रसोई गैस (PNG) की बिक्री मात्रा 3% बढ़ गई।