फिल्लौर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, हथियारों सहित 3 गैंगस्टर किए गिरफ्तार

Spread the News

फिल्लौर: एस.एस.पी. जालंधर देहाती पीपीएस स्वर्णदीप सिंह के दिशा-निर्देश पर गैंगस्टरों के खिलाफ छेड़े स्पैशल अभियान तहत फिल्लौर थाने की टीम ने 3 लोगों को गिरफ्तार कर 2 पिस्टल, 32 बोर, 2 मैगजीन, 4 राऊंड जिंदा व एक कार बरामद की। सरबजीत सिंह बाहिया पीपीएस ने प्रैस को जानकारी देते हुए बताया कि डी.एस.पी. फिल्लौर जतिंदर सिंह, सुरिंदर कुमार थाना प्रमुख फिल्लौर की देखरेख में फिल्लौर थाने के मुख्य अधिकारी को सूचना मिली कि एक गैंगस्टर किसान से बंदूक की नोक पर मोटरसाइकिल छीन कर ले गया व 2 गैंगस्टरों को लोगों ने गन्ने के खेत में हथियार समेत छुपे हुए हैं जिनकी मदद के लिए गांव से एक व्यक्ति आया हुआ था।

लोगों ने हिम्मत दिखाते हुए गन्ने के खेत को चारों तरफ से घेर लिया और पुलिस को सूचना दी जिस पर जतिंदर सिंह पीपीएस उप-पुलिस अधीक्षक निरीक्षक सुरिंदर कुमार मुख्य अधिकारी फिल्लौर थाना ने तत्काल प्रभावी कार्रवाई की और गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी पुत्र शिंदरपाल सिंह निवासी ग्राम चरण थाना सदर नवांशहर जिला शहीद भगत सिंह नगर, अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श पुत्र जसविंदर सिंह निवासी ग्राम धमई थाना गढ़शंकर जिला होशियारपुर को गन्ने के खेत से पकड़ लिया।

पुलिस ने लगभग 1 घंटे की मेहनत के बाद इन लोगों को आत्मसमर्पण के लिए मना लिया। इनसे .32 बोर की 2 पिस्टल, 2 मैगजीन, 4 राऊंड जिंदा, चोरी की एक कार बरामद हुई है। वहीं गांव लसाड़ा के वरिंदर उर्फ टोनी पुत्र सतनाम सिंह जो इन गैंगस्टरों की मदद के लिया आया था उसको आई-20 कार के साथ गिरफ्तार करके आगे की पूछताछ की जा रही है। गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि वह पिछले 5 साल से भगौड़ा है। टोनी हमें लेने आया था पर गांव वासी हम पर हावी हो गए थे और स्टीफन मौका देख कर भाग गया था। अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श पुत्र जसविंदर सिंह निवासी ग्राम घुमाई थाना गढ़शंकर जिला होशियारपुर ने पूछताछ में बताया कि मेरे खिलाफ गोला बारूद अधिनियम तहत थाना चबेवाल में मामला दर्ज गया है।

उक्त गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी अपने अन्य साथियों के साथ चाबेवाल थाना क्षेत्र का रहने वाला है। वरिंदर उर्फ टोनी पुत्र सतनाम सिंह पर 11 मुकद्दमें दर्ज हैं।