Bangladesh में डेंगू का प्रकोप, 24 घंटे के अंदर 9 लोगों की हुई मौत

Spread the News

ढाकाः बांग्लादेश में शुक्रवार को पिछले 24 घंटों में डेंगू से 9 लोगों की मौत हो गई। यह संख्या जनवरी के बाद सबसे ज्यादा है। इसके चलते इस साल मच्छर जनित बीमारी से आधिकारिक तौर पर मरने वालों की संख्या बढ़कर 161 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के तहत स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (डीजीएचएस) के अनुसार, इस महीने के पहले तीन दिनों में डेंगू के 2,959 मामले सामने आए थे। दक्षिण एशियाई देश में डेंगू के मामलों में उल्लेखनीय वृद्धि देखने को मिली थी। एक समाचार एजेंसी ने डीजीएचएस के हवाले से बताया कि नवंबर में अब तक 20 मौतें हुई हैं, वहीं अक्टूबर में 86, सितंबर में 34, अगस्त में 11, जुलाई में 9 और जून में एक मौत हुई थी।

गंभीर मामलों में जोड़ों में दर्द, चक्कर आना, उल्टी, चकत्ते, सांस लेने में समस्या, रक्तस्नव और किसी अंग का काम करना बंद होना शामिल है। जून-सितंबर मानसून की अवधि में बांग्लादेश में डेंगू बुखार के मामलों में व्यापक वृद्धि देखने को मिली। अधिकांश मामले राजधानी ढाका से सामने आए। पिछले 24 घंटों में ढाका में 498 समेत डेंगू के कुल 882 नए मामले सामने आए। डीजीएचएस के अनुसार, अक्टूबर में डेंगू के 21,932 मामले दर्ज किए गए थे, सितंबर में 9,911 लोग मच्छर जनित बीमारी से संक्रमित हुए थे।

इस साल अब तक डेंगू के 40,983 मामले सामने आ चुके है और 37,146 मरीज ठीक हो चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मालेक ने गुरुवार को निवारक उपायों को मजबूत करने की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि सार्वजनिक जागरूकता के बिना डेंगू को नियंत्रित करना मुश्किल है। उन्होंने कहा कि देश में रुक-रुक कर हो रही बारिश के बीच डेंगू का प्रकोप अभी भी जारी है, जिससे चीजें और कठिन हो गई हैं। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश के अलावा सिंगापुर, मलेशिया, इंडोनेशिया, फिलीपींस और वियतनाम भी जलवायु परिवर्तन के कारण डेंगू से प्रभावित हैं। मंत्री ने कहा कि सरकार देश में डेंगू की मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए ईमानदारी से काम कर रही है।