भाजपा ने चुनावी संकल्प पत्र में कार्मिकों के लिए की 7 घोषणाए

Spread the News

शिमला: बेशक भाजपा का संकल्प पत्न ओपीएस के मामले में खामोश हो, मगर पार्टी ने अपने घोषणा पत्न में कार्मिकों को लेकर आधा दर्जन से अधिक वायदे किए हैं। भाजपा ने संकल्प पत्न में प्रदेश के कार्मिकों को केंद्रीय वेतन आयोग से जोडऩे अथवा राज्य का अपना वेतन आयोग गठित करने का संकल्प लिया है। सनद रहे कि प्रदेश के कई कर्मचारी संगठन हिमाचल के कार्मिकों को केंद्रीय वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत वेतन मान देने की मांग कर रहे हैं। संकल्प पत्र के अनुसार भाजपा राज्य के कर्मचारियों को केंद्रीय वेतन आयोग से जोड़ने के लिए नीति बनाने का भी ऐलान किया है। इसके अलावा सरकारी कर्मचारियों और पैंशनर्स के लिए कैशलेस हैल्थ सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके लिए 50 करोड़ रु पए का फंड रखा जाएगा। भाजपा ने राज्य के कर्मचारियों के लिए डीए को 34 फीसदी से बढ़ाकर 38 फीसदी करने की बात कही है। जनजातीय और दूरदराज के इलाकों में सेवारत सरकारी कर्मियों को दिए जाने वाले भत्ते को 650 रुपए से बढ़ाकर 1300 रु पए करने का वादा है। यदि किसी महिला की प्रसव के दौरान मौत हो जाए और उसका पति सरकारी सेवा में हो तो उसे 365 दिन यानी पूरा एक साल चाइल्ड केयर लीव मिलेगी। इसी तरह महिला कर्मचारी की चाइल्ड केयर लीव को भी 365 दिन करने का वादा है।