JP Nadda के मुकाबले Mallikarjun Kharge आज संभालेंगे प्रचार की कमान

Spread the News

शिमला : हिमाचल प्रदेश में 12 नवबंर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार अब अपने यौवन पर पहुंच गया है। प्रदेश में मुख्य मुकाबला सातरूढ़ भाजपा और कांग्रेस के बीच है। आम आदमी पार्टी की यहां पर नाममात्र की ही उपस्थिति रह गई है। मतों की गणना 8 दिसंबर को होगी। प्रदेश में चुनाव प्रचार व प्रबंधन की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण रहती है। यह हर वर्ग के मतदाता की मनोस्थिति पर प्रभाव डालता है और उसे प्रभावित करने की पूरी क्षमता रखता है। यदि हम भाजपा और कांग्रेस के चुनावी अभियान पर नजर डालें तो अब यह आक्रमक होते जा रहा है। स्टार वार के मामले में भाजपा कांग्रेस से आगे निकलती प्रतीत हो रही है। कांग्रेस की प्रचार की कमान प्रियंका गांधी ने संभाली हुई है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकाजरुन खड़गे आज शिमला पहुंचे हैं। सचिन पायलट के अलावा भूपेश बघेल, अल्का लांबा, राजीव शुक्ला, संजय दत्त, प्रतिभा सिंह, मुकेश अग्निहोत्री व सुखविंद्र सिंह सुक्खू लगातार प्रचार में डटे हैं। विधान सभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश में आदर्श चुनाव आचार संहिता 14 अक्तूबर को लागू हुई। लेकिन भाजपा का चुनाव प्रचार इससे पहले से ही आरंभ हो चुका था।

प्रदेश में चुनाव आचार संहित लगने से पहले पांच और 13 अक्तूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रदेश के चार जिलों का दौर कर चुके थे। भाजपा का बूथ स्तर के कार्यकर्ता से लेकर प्रधानमंत्री तक चुनाव प्रचार में उतर चुके हैं। हिमाचल में भाजपा ने अपना चुनाव प्रचार इस कुशल प्रबंधन के साथ किया है कि प्रदेश के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में एक साथ केन्द्रीय नेताओं से लेकर भाजपा शासित प्रदेश के मुख्यमंत्री हिमाचल को चुनावी समर में जनसभाएं कर चुके हैं। जोकि भाजपा के कुशल चुनाव प्रबंधन को दर्शाता है। भाजपा का संगठनात्मक ढांचा बहुत मजबूत है और इसमें कार्यकर्ता की जिम्मेदावरी व अनुशासन दो जिम्मेदार पहलू हैं।

हिमाचल के चुनावी इतिहास में यह पहली बार हुआ कि किसी पार्टी ने प्रदेश के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में एक साथ बड़े नेताओं को साथ सफल चुनाव प्रचार अभियान चलाया हो। दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी इस दौड़ में बुरी तरह पिछड़ चुकी है। पहले हम भाजपा की बात करें तो 30 अक्तूबर को भाजपा ने विजय संपर्क अभियान चलाया जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह एंव कई केन्द्रीय मंत्रियों से लेकर उत्तर प्रदेशए हरियाण और उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों ने भाजपा के बड़े कदावर नेताओं के साथ प्रदेश के कोने-कोने में रैलियां की। यहां यह भी गौर करने वाली बात है कि 29 अक्तूबर को नामांकन वापिस लेने की आखिरी तारीख थी। कांग्रेस की प्रचार की कमान प्रियंका गांधी ने संभाली हुई है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकाजरुन खड़गे आज शिमला पहुंचे हैं। सचिन पायलट के अलावा भूपेश बघेल, अल्का लांबा, राजीव शुक्ला, संजय दत्त, प्रतिभा सिंह, मुकेश अग्निहोत्री व सुखविंद्र सिंह सुक्खू लगातार प्रचार में डटे हैं।