पंजाब पुलिस का घेराबंदी व तलाशी अभियान, एक किलो हेरोइन, लाखों की ड्रग मनी और हथियारों सहित 98 लोग गिरफ्तार

Spread the News

चंडीगढ़: मुख्यमंत्री भगवंत मान के दिशा-निर्देशों पर पंजाब पुलिस द्वारा विशेष घेराबंदी और तलाशी अभियान चलाया गया। जिसके बाद पुलिस टीमों ने विभिन्न अपराधों में शामिल तीन उद्घोषित अपराधियों सहित 98 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस संबंध में कुल 97 एफआईआर दर्ज की गई हैं। डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब गौरव यादव ने कहा कि एडीजीपीज़/आईजीपीज़ और संबंधित सीपीज़/एसएसपीज़ के निगरानी अधीन 12,000 से अधिक पुलिस कर्मियों द्वारा राज्य भर में यह कार्यवाही की गई।

उन्होंने बताया कि पुलिस टीमों ने एक किलो हेरोइन, 10.91 लाख रुपए ड्रग मनी, 158 लीटर अवैध शराब, 660 किलो लाहन, 103 किलो पोस्त, 19 किलो भांग और 10,460 नशीली गोलियां बरामद की हैं। इसके अलावा पुलिस ने पांच घंटे तक चली कार्रवाई के दौरान दो पिस्टल, एक राइफल और एक बंदूक के साथ गोला-बारूद और 30 मोटरसाइकिल भी बरामद किए हैं। इस बीच, डीजीपी गौरव यादव एडीजीपी कम्युनिटी अफेयर्स डिवीजन एंड वुमन अफेयर्स गुरप्रीत कौर और पुलिस कमिश्नर (सीपी) लुधियाना मनदीप सिंह सिद्धू के साथ लुधियाना कमिश्नरेट के विभिन्न क्षेत्रों में व्यक्तिगत रूप से ऑपरेशन की निगरानी करने के लिए शामिल हुए थे।

इसी तरह एसएएस नगर में एडीजीपी ईश्वर सिंह, फाजिल्का में एडीजीपी डॉ. जितेंद्र कुमार जैन, पटियाला में एडीजीपी शशि प्रभा द्विवेदी, फतेहगढ़ साहिब में एडीजीपी डॉ. नरेश अरोड़ा, जालंधर कमिश्नरेट में एडीजीपी राम सिंह, अमृतसर कमिश्नरेट में एडीजीपी एएस राय, जालंधर ग्रामीण में एडीजीपी अनीता पुंज, बठिंडा में एडीजीपी जी नागेश्वर राव, मलेरकोटला में एडीजीपी विभु राज और लुधियाना ग्रामीण में एडीजीपी एलके यादव ऑपरेशन की निगरानी करने के लिए शामिल हुए थे।