सुपरवाइज़र श्रेणी के 80 हजार रेलकर्मियों के लिए खुली पदोन्नति की राह

Spread the News

नयी दिल्ली: सरकार ने देश में रेलवे के सुपरवाइजर स्तर के करीब 80 हजार कर्मचारियों की पदोन्नति की राह में बुधवार को सारी बाधाएं हटा दी और उन्हें प्रथम श्रेणी के अधिकारी यानी लेवल 9 तक पदोन्नति देने का फैसला किया। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने आज यहां संवाददाताओं से कहा कि रेलवे में लेवल 7 के बाद पदोन्नति के अवसर नहीं होने के कारण इस लेवल के रेलवे कर्मचारियों का मनोबल कम हो जाता था और वर्षों तक एक ही लेवल पर काम करके वे सेवानिवृत्त हो जाते थे।

वैष्णव ने कहा कि वास्तव में भारतीय रेलवे को संचालित करने वाले ये ही सुपरवाइजर स्तर के लेवल 7 के वरिष्ठ कर्मचारी ही हैं। लेवल 7 के बाद पदोन्नति की राह खोलने के फैसले से उनका मनोबल बढ़ेगा और रेलवे को भी अपने कर्मचारियों की प्रतिभा का बेहतर इस्तेमाल का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी रेलवे कर्मचारी जिनकी पदोन्नति के रास्ते लेवल 7 के बाद बंद हो गये हैं, वे कर्मचारी लेवल 8 (ग्रुप बी अधिकारी) और लेवल 9 (ग्रुप ए अधिकारी) तक पदोन्नति पा सकेंगे। उन्होंने कहा कि सभी पात्र कर्मचारियों को जल्दी ही लेवल 8 के पदोन्नति के पत्र जारी किये जाएंगे।