प्रधानमंत्री को जी-20 की अध्यक्षता मिलना हर हिंदुस्तानी के लिए गर्व की बात: अनिल विज

Spread the News

अंबाला छावनी: हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर आयोजित जी-20 देशों की शिखर बैठक में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जी20 की कमान सौंपने पर प्रशंसा जाहिर की है। विज ने कहा कि यह फख्र की बात है कि भारत के प्रधानमंत्री को जी20 का अध्यक्ष बनाया गया है। वर्ष 2023 में जी-20 का शिखर सम्मेलन होगा और वह हिंदुस्तान में होगा। यह हर हिंदुस्तानी के लिए नाचने एवं हर्ष मनाने का दिन है। विज ने ट्वीट किया था कि भारत के प्रधानमंत्री को जी-20 की अध्यक्षता मिलना और 2023 में जी-20 की बैठक हिंदुस्तान में होना, हर हिंदुस्तानी के लिए गर्व की बात है। बुधवार को इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जी-20 की अध्यक्षता सौंपी।

अब भारत एक दिसंबर से अगले एक वर्ष तक दुनिया के 20 सबसे प्रभावशाली देशों का नेतृत्व करेगा। जी-20 के सदस्य देशों में भारत सहित ब्रिटेन, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, इंडोनेशिया, इटली, जापान, अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया , ब्राजील, कनाडा, चीन, दक्षिण कोरिया, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की और यूरोपीय संघ शामिल हैं। कांग्रेस देश के नियमों और परंपराओं को चाहती है तोड़ना : उज्जैन में मंदिर समिति द्वारा राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर फोटोग्राफी नहीं करने के मसले पर गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि कांग्रेस देश के किसी भी कायदे कानून को नहीं मानती। वह इसका अभियान चला रहे हैं कि हम कोई कायदा कानून नहीं मानते।

वहां पहले ही नियम बना हुआ है और इनके आने से नहीं बनाया गया। यदि नियम पहले ही बना है तो देश के नियमों को इन्हें मानना चाहिए। मगर यह देश के सारे नियमों व परंपराओं को तोड़ना चाहते हैं। पुलिस कप्तान और कमिश्नर रोजाना सुनेंगे समस्याएं : उन्होंने कहा कि मैंने सभी पुलिस कप्तानों, कमिश्नरों को आदेश जारी किए हैं कि वह रोजाना 11 से 12 बजे तक बैठकर लोगों की समस्याओं को सुने। यदि वह समस्याएं सुनेंगे तो उनके पास जो लोग प्रतिदिन समस्याएं लेकर आते हैं, वह अपने आप कम हो जाएंगे और लोगों को वहीं पर इंसाफ मिल जाएगा।