ADGP Arpit Shukla ने कानून व्यवस्था को लेकर की उच्च स्तरीय बैठक, हाई-टेक नाकों को पुनर्जीवित करने के निर्देश

Spread the News

चंडीगढ़: मुख्यमंत्री भगवंत मान द्वारा पंजाब को अपराध मुक्त राज्य बनाने के दृढ़ प्रतिबद्धता को दोहराते हुए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) कानून व्यवस्था अर्पित शुक्ला ने जालंधर रेंज में कानून व्यवस्था की समीक्षा के लिए फगवाड़ा में एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। बैठक के दौरान अर्पित शुक्ला ने कहा कि राज्य में सभी हाई-टेक नाकों को पुनर्जीवित किया जाएगा।

एडीजीपी शुक्ला ने सीपी/एसएसपी को अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में विशेष रूप से रात के समय पुलिस चेक प्वाइंट बढ़ाने और हर नाके पर अधिक से अधिक वाहनों की चेकिंग सुनिश्चित करने के निर्देश दिए, जिससे आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी। उन्होंने यह भी सलाह दी कि सभी नाकों को इस तरह से सिंक्रोनाइज़ किया जाना चाहिए कि वे एक ही कॉल पर तुरंत सक्रिय हो जाएं।

एडीजीपी अर्पित शुक्ला द्वारा जालंधर रेंज में कानून व्यवस्था की समीक्षा के लिए फगवाड़ा में की गई उच्च स्तरीय बैठक में आईजीपी जालंधर रेंज गुरशरण संधू और एसएसपी कपूरथला नवनीत बैंस भी मौजूद थे। उन्होंने सभी जिला पुलिस प्रमुखों को असामाजिक तत्वों के खिलाफ निगरानी को और तेज करने के लिए कहा। उन्होंने बैठक के दौरान कानून व्यवस्था से संबंधित महत्वपूर्ण मामलों के संबंध में निर्देश भी जारी किए।

एडीजीपी ने कहा कि पुलिस राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए दिन-रात काम कर रही है। इसके अतिरिक्त, राज्य में गैंगस्टरों और नशा तस्करों की गतिविधियों पर नकेल कसने के लिए एक विशेष अभियान शुरू किया गया है, जिसमें काफी प्रगति देखी जा रही है।