बद्दी में नकली दवा कारोबार का भंडाफोड़: नामी कंपनियों की नकली दवाएं और रॉ-मैटीरियल बरामद

Spread the News

नालागढ़: हिमाचल के औद्योगिक क्षेत्र बद्दी में राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण ने नकली दवा निर्माण में लगे एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है। मंगलवार सुबह प्राधिकरण की टीम ने बद्दी बैरियर पर छापेमारी के दौरान एक कार से भारी मात्रा में नक़ली दवाओं की खेप बरामद की। इसके बाद प्राधिकरण की टीम ने बद्दी में ही एक गोदाम और नकली दवा निर्माण करने वाली फैक्टरी में दबिश देकर इस धंधे का पर्दाफाश किया। राज्य ड्रग अथॉरिटी प्राधीकरण ने नकली दवाइयों का जखीरा पकडऩे में सफलता हासिल की है। ड्रग अथॉरिटी ने सूचना के आधार पर एक गोदाम में भी छापेमारी की, जहां हजारों की तादाद में नामी कंपनियों की नकली दवाइयां ओर रॉ मैटीरियल बरामद हुआ है। फैक्ट्री से भारी तादाद में नामी कंपनियों के नाम से निर्मित नकली दवाएं बरामद हुई हैं। राज्य दवा नियंत्रक नवनीत मारवाह ने नक़ली दवा गिरोह के खिलाफ़ ड्रग एंड कास्मेटिक एक्ट के तहत कार्रवाई शुरू कर दी है।

उल्लेखनीय है कि विगत दो वर्ष के अंतराल में नकली दवा निर्माण में सलंपित यह तीसरी बड़ी कार्रवाई की गई हैं। जानकारी के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से बददी में सक्रिय नक़ली दवा निर्माण में लगे लोग राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण के राडार पर थे, जैसे ही मंगलवार सुबह क्रेटा कार में दवा सप्लाई किए जाने की सूचना प्राधिकरण को मिली तो तुरंत पुलिस की मदद से उसे बददी बैरियर पर पकड़ लिया गया। प्राधिकरण के अधिकारियों के हत्थे चढ़े कार सवार ने पूछताछ में सिक्का होटल बद्दी के पास गोदाम और फैक्टरी के बारे में बताया, जहां एक साथ छापेमारी कर भारी तादाद में नक़ली दवा की खेप बरामद हुई। पूछताछ में खुलासा हुआ कि आरोपियों का उत्तर प्रदेश में मेडिकल स्टोर भी है, यह लोग हिमाचल सहित कई राज्यों में इन नक़ली दवाओं को बेच रहे थे। छापेमारी के दौरान यूएसवी लिमिटेड की हाई कोलेस्ट्रॉल और स्ट्रोक के उपचार की दवा रोजडेे, सिपला कंपनी की एलर्जी की दवा मोंटेयर और ईपका कंपनी की दर्द निवारक दवा जीरोडोल बरामद हुई है।