भारत vs न्यूजीलैंड: पावर प्ले में अपना रवैया बदलना चाहेगा भारत

Spread the News

नेपियर: भारत को अपने रवैये में आमूलचूल बदलाव करने की जरूरत है लेकिन एक बार फिर सवाल यही उठता है कि क्या टीम मंगलवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले तीसरे और अंतिम टी20 मैच में उमरान मलिक और संजू सैमसन जैसे खिलाड़ियों को मौका देगी या नहीं। टी20 विश्व कप में एक बार फिर उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाने के बाद संभावना थी कि भारत कुछ अन्य खिलाड़ियों को आजमाएगा लेकिन अगर दूसरे टी20 के टीम संयोजन को देखें तो संकेत मिलते हैं कि टीम शून्य से शुरुआत करने को लेकर झिझक रही है।

सूर्यकुमार यादव के शानदार व्यक्तिगत प्रदर्शन को छोड़ दें तो भारतीय टीम को रविवार को एक बार फिर 160 रन का स्कोर खड़ा करने में जूझना पड़ता जो आस्ट्रेलिया में हुए विश्व कप की याद दिलाता है जहां भारतीय टीम बड़े स्कोर खड़े करने में विफल हो रही थी। पावर प्ले में भारत का रवैया बड़ी चिंता का सबब है। दूसरे टी20 में शीर्ष क्रम में इशान किशन के साथ ऋषभ पंत को आजमाया गया लेकिन वांछित नतीजे नहीं मिले। पंत के स्तर को देखते हुए शृंखला के अंतिम मैच में उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। सैमसन एक अन्य बल्लेबाज हैं जो तुरंत प्रभाव छोड़ सकते हैं लेकिन टीम उन्हें अंतिम एकादश में शामिल नहीं कर रही।

कप्तान हार्दिक पंड्या की मैच के बाद की टिप्पणी पर गौर करें तो उन्होंने कहा था कि प्रबंधन के तीसरे टी20 के लिए काफी बदलाव करने की संभावना नहीं है। न्यूजीलैंड को साथ ही बेहतरीन फॉर्म में चल रहे सूर्यकुमार को रोकने का तरीका भी ढूंढना होगा।