प्रसिद्ध ऐतिहासिक कार्तिक स्वामी मंदिर कुगती के कपाट 30 नवंबर को होंगे बंद

Spread the News

भरमौर : सुप्रसिद्ध ऐतिहासिक कार्तिक स्वामी मंदिर कुगती के कपाट हर वर्ष की भांति गत वर्ष भी 30 नंबवर 2022 को बंद हो जाएंगे। धार्मिक परंपरा के अनुसार मंदिर के कपाट 30 नंबवर को दोपहर पूजा अर्चना करने के बाद बंद कर दिए जाते हैं व अगले वर्ष वैशाख (अप्रैल) मास की संक्रांति वाले दिन श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खुलते हैं।

बता दें कि उत्तर भारत में एकमात्र भगवान शिव के ज्येष्ठ पुत्र कार्तिकेय स्वामी का मंदिर जन-जातीय क्षेत्र भरमौर की पंचायत कुगती तहसील भरमौर में स्थित है व भरमौर से मंदिर की दूरी 33 किलोमीटर के लगभग है। कुगती गांव तक भरमौर से 26 किलोमीटर बस सेवा उपलब्ध है। हर वर्ष हजारों की संख्या में देश-विदेश के श्रद्धालु यहां पर शिरकत करते हैं। लोगों में स्वामी कार्तिकेय में गहरी आस्था है। भरमौर को शिव नगरी के नाम से भी जाना जाता है।