अमेरिका में बंदूक हिंसा “महामारी” के उपचार के लिए वास्तविक नीतिगत “चिकित्सक” नहीं

Spread the News

स्थानीय समय के अनुसार 22 नवंबर को अमेरिका के वर्जीनिया स्टेट के चेसापीक शहर में स्थित वॉलमार्ट सुपरमार्केट में गोलीबारी की घटना हुई, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई। इससे तीन दिन पहले यानी 19 नवंबर की देर रात कोलोराडो राज्य के कोलोराडो स्प्रिंग्स शहर के एक नाइट क्लब में गोलीबारी हुई, जिसमें 5 लोगों की मौत हो गई। इससे अमेरिका में लगातार तीसरे वर्ष सामूहिक गोलीबारी की संख्या 600 से अधिक हो गई है।

अमेरिका में मध्यावधि चुनाव अभी संपन्न हुए हैं, और बंदूक हिंसा के मुद्दे ने व्यापक ध्यान आकर्षित किया है। बंदूक की प्रत्येक आवाज़ ने लोगों को बताया कि “अमेरिकी शैली की महामारी” अधिक गंभीर हो गई है। आज के अमेरिका में, लोगों को किसी भी समय गोली मार दी जा सकती है, चाहे वे सड़क पर चल रहे हों, कैंपस में पढ़ रहे हों, या बार में शराब पी रहे हों। बंदूक हिंसा से अमेरिकी लोगों के जीवन को खतरा है और सार्वजनिक मनोविज्ञान को नुकसान पहुंचता है। अमेरिका की आबादी दुनिया की आबादी का 4.2 फीसदी है, लेकिन दुनिया के 46 फीसदी नागरिकों के पास बंदूकें हैं। इस अनुपात में, अमेरिका में बंदूक हिंसा से मृत्यु दर अन्य विकसित देशों की तुलना में अधिक है। यूएस “गन वायलेंस आर्काइव्स” वेबसाइट के नवीनतम आंकड़ों से पता चलता है कि 21 नवंबर तक, इस साल अमेरिका में 39 हजार से अधिक लोग बंदूक हिंसा के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं।

जनता के दबाव में, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इस साल जून में “द्विपक्षीय समझौता संस्करण” बंदूक नियंत्रण विधेयक पर हस्ताक्षर किए। जुलाई में, व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी कर कहा कि वह “अमेरिका को अधिक सुरक्षित बनाना” योजना शुरू करेगा, जिसमें पांच वर्षों में अतिरिक्त 1 लाख पुलिसकर्मियों को नियुक्त करने और प्रशिक्षित करने के लिए 13 अरब डॉलर खर्च होंगे। लेकिन अमेरिकी नीति निर्माता बंदूक हिंसा के अंतर्निहित कारणों पर विचार करने से डरते हैं, जब इसका मुकाबला करने की बात आती है। उदाहरण के लिए, बेहद ढीले बंदूक नियंत्रण कानून, हित समूहों द्वारा पैरवी करना और पार्टियों के बीच तीव्र लड़ाई, इत्यादि। यह निश्चित है कि सरकार की नीति मूल रूप से खराब सामाजिक परिस्थितियों के विस्तार और अमेरिका में सुरक्षा के बिगड़ने को नहीं रोक सकती है। 

अमेरिका बंदूक हिंसा की “महामारी” से पीड़ित है, लेकिन इसके इलाज के लिए एक वास्तविक नीति “चिकित्सक” अभी तक सामने नहीं आई है। जीवन का अधिकार सबसे महत्वपूर्ण मानव अधिकार है। क्या अमेरिका में बंदूक हिंसा को प्रभावी ढंग से रोका जा सकता है, यह अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए अमेरिका में मानवाधिकारों को मापने के लिए एक महत्वपूर्ण मानदंड है। अमेरिकी राजनेताओं के लिए अमेरिकी समाज में गोलीबारी को रोकना असंभव नहीं है, लेकिन कुंजी यह है कि क्या वे वास्तव में इसे हल करना चाहते हैं।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)