विद्यार्थियों की मांग मानने की बजाय, उनको FIR का डर दिखा रही सरकार: पूर्व CM Hooda

Spread the News

चंडीगढ़ः पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बॉन्ड पॉलिसी के खिलाफ जारी आंदोलन के लिए सरकार के संवेदनहीन रवैये को जिम्मेदार ठहराया है। उनका कहना है कि महीनेभर प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों के विद्यार्थी आंदोलनरत हैं। पीजीआई रोहतक में विद्यार्थी भूख हड़ताल और धरना कर रहे हैं। लेकिन सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही। अब विद्यार्थियों के समर्थन में रेजिडेंट डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ भी आ गया है। उनकी हड़ताल के चलते मरीजों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।