जिला परिषद् चुनाव के नतीजे हरियाणा सरकार के लिये बड़ा झटका: MP Deepender Hooda

Spread the News

राजयसभा सदस्य दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि जिला परिषद् चुनाव नतीजों से स्पष्ट है कि हरियाणा में जनता ने बड़े बहुमत से भाजपा जजपा को नकारने का काम किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने सिंबल पर चुनाव लड़ा, फिर भी उसे केवल 5 प्रतिशत वोट ही मिला। यानी 95 प्रतिशत लोगों ने भाजपा को नकार दिया। करीब 88 प्रतिशत मतदाताओं ने निर्दलीय उम्मीदवारों को वोट दिया। उसमें ज्यादातर कांग्रेस पार्टी के सदस्य या कार्यकर्ता हैं। उन्होंने आगे कहा कि हरियाणा के हर जिले के अंदर 200 से ज्यादा कांग्रेस कार्यकर्ता निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव जीते हैं, इसके कारण भाजपा जजपा नेताओं, मंत्रियों, सांसदों, विधायकों के परिवार के लोगों को हार का मुंह देखना पड़ा है। जिला परिषद् चुनाव के नतीजे सरकार के लिये बड़ा झटका हैं।

दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि चुनाव परिणाम इस सरकार के लिये बड़ा झटका है। नतीजों से स्पष्ट है कि ग्रामीण अंचल में लोग बदलाव चाहते हैं। सिंबल पर चुनाव न लड़ना कांग्रेस पार्टी की सफल रणनीति का हिस्सा है। हम हरियाणा के ताने-बाने को जानते हैं। 2024 से पहले ऐसे नतीजे कांग्रेस के लिये उत्साहजनक हैं। भविष्य के लिये एकमात्र विकल्प कांग्रेस पार्टी है। नतीजों से साफ है 2024 में भाजपा जा रही है और कांग्रेस आ रही है। दीपेंद्र हुड्डा ने चुनाव नतीजों के लिये हरियाणा के मतदाताओं का धन्यवाद किया और विजयी पार्षदों को शुभकामनाएं दीं।