मंत्री Harjot Bains ने जाति व बिरादरी पर आधारित सरकारी स्कूलों के नाम बदलने के दिए आदेश

चंडीगढ़: पंजाब के स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने राज्य में स्थित ऐसे सभी सरकारी स्कूलों के नाम बदलने के आदेश जारी किए हैं जिनके नाम जाति एवं बिरादरी पर आधारित हैं। इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए हरजोत बैंस ने बताया कि राज्य के बहुत से सरकारी स्कूलों के नाम किसी जाति अथवा बिरादरी से जोडक़र रखे होने सम्बन्धी कई मामले उनके संज्ञान में आए हैं, जोकि मौजूदा दौर में असभ्य होने का एहसास करवाते हैं और साथ ही समाज में जाति आधारित भेदभाव को प्रोत्साहित करते हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब के सरकारी स्कूलों में धर्म-निरपेक्ष और जात-पात से ऊपर उठकर समूह विद्यार्थियों को समानता के आधार पर एक समान शिक्षा दी जा रही है, जिसके अंतर्गत सरकारी स्कूलों के नामों को एक वर्ग या जाति से नहीं जोड़ा जा सकता।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि पंजाब गुरूओं-पीरों एवं महान पैगंबरों की धरती है, जिन्होंने मानवता को जात-पात और हर किस्म के भेदभाव से दूर रहने की शिक्षा दी है। उन्होंने कहा कि आज के समय के अनुसार विद्यार्थियों के कोमल मन पर इन नामों का गहरा प्रभाव पड़ता है और कई बार बहुत से माता-पिता भी अपने बच्चों को इन नामों के कारण सरकारी स्कूलों में दाखि़ल करवाने से गुरेज़ करते हैं। इस सम्बन्धी पंजाब के समूह जि़ला शिक्षा अधिकारियों सेकंडरी शिक्षा एवं एलिमेंट्री शिक्षा से उनके अधीन क्षेत्र में चल रहे अलग-अलग जाति आधारित नामों के स्कूलों की रिपोर्ट माँगी गई है। इस रिपोर्ट के मिलने के उपरांत इन नामों को बदलने के लिए विभाग द्वारा बिना देरी किए कार्यवाही करने के लिए मुख्य कार्यालय के उच्च अधिकारियों को आदेश जारी किए गए हैं।