टैक्स अधिवक्ताओं से कर-संवाद कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर लाल का संबोधन, कहा- गुरुग्राम और हिसार में शुरू होगी joint range appeal

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने टैक्स अधिवक्ताओं से कर-संवाद कार्यक्रम में संबोधन किया। उन्होंने कहा कि पिछले 3 साल से बजट प्रस्तुत करने का मौका मुझे मिला, इस बार भी कोशिश यहीं होगी कि आम जनता की जरूरतों के लिए बजट बने। सरकार टैक्स पेयर का विश्वास जीतने के लिए काम करती हैं। शुरू में GST लागू होने पर विरोध हुआ,लेकिन अब पूरे देश में इसकी स्वीकार्यता, जीएसटी से पूरी प्रक्रिया में पारदर्शिता आई।

सरकारी खजाने में टैक्स दाता हमारे सहयोगी है। हरियाणा का जीएसटी क्लेकशन पूरे देश का 6 फीसदी हैं। एक देश एक टैक्स से पूरे देश में समरूपता आई। टैक्स प्रक्रिया में तकनीक जुड़ने से तकनीक का गलत इस्तेमाल ना हो इसकी भी जिम्मेदारी बढ़ी है। टैक्स रजिस्ट्रेशन के लिए जागरूकता जरूरी है ,ज्यादा से ज्यादा नए वालंटियर रजिस्ट्रेशन कराने वाले 3 वकीलों को सम्मानित करेंगे। ये देश मेरा है इस भाव से काम करना होगा, देश आगे बढ़े ये हम सबका लक्ष्य है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने की बड़ी घोषणा की है। टैक्स से जुड़े मामलों के लिए गुरुग्राम और हिसार में शुरू होगी joint range appeal 1 जनवरी से हरियाणा में 5 हो जाएगी joint range appeal सरकार ने व्यवस्था परिवर्तन के लिए किए कई काम, PPP के जरिये लोगों के घरों तक सरकारी योजना सरकारी योजना पहुँच रही है।

GST के लिए ज्यादा से ज्यादा ट्रेनिंग कार्यक्रम चलाने होंगे। GST Council में हरियाणा सरकार ने दूसरे ट्रिब्यूनल का लिखित में मामला पहुंचाया, जल्द ही गुरूग्राम में ट्रिब्यूनल खुलने की उम्मीद है। राज्य स्तरीय ग्रीवेंस कमेटी बनाई जाएगी। GST आमने-सामने नाम से 6 डिवीजन में बनेगी कमेटी, दोनों की एक महीने में 1 मीटिंग होगी। हर जिले टैक्स बार के लिए लाईब्रेरी बनाई जाएंगी, एक हॉल हर जिले कैंटीन की व्यवस्था के साथ मुहैया कराया जाएगा।