मार्कफेड के अधिकारियों ने 12,194 गेहूं के बोरों का किया गबन, विजिलेंस ने किया गिरफ्तार

चंडीगढ़: विजीलैंस ब्यूरो ने मार्कफैड के एक वरिष्ठ शाखा अधिकारी राजबीर सिंह बैंस को 6,097 क्विंटल वजन के 12,194 गेहूं के बोरों का गबन करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। इस मामले में राजबीर सिंह बैंस समेत चार आरोपी अधिकारियों ने सरकारी खजाने को 1,24,61,658 रुपये की भारी क्षति पहुंचाई है।

विजिलेंस के प्रवक्ता ने बताया कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है। मार्कफेड के सीनियर शाखा अधिकारी राजबीर सिंह बैंस, एमआरएम कॉम्प्लेक्स संरक्षक फरीद खान और सेल्समैन दलेर सिंह को इस गबन के लिए जिम्मेदार पाया गया था। इस मामले में फील्ड ऑफिसर अश्विनी कुमार को भी जांच के दौरान नामजद किया गया है।

उन्होंने आगे कहा कि एमआरएम कॉम्प्लेक्स, राजपुरा और ढींडसा में खुले प्लिंथ में खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारियों के साथ मार्कफेड के भंडारण गोदामों की औचक जांच के बाद यह मामला दर्ज किया गया है। इस चेकिंग के दौरान विजिलेंस की टीम ने पाया है कि जांच वर्ष 2013-14, 2014-2015 और 2015-2016 के दौरान 6097 क्विंटल वजन की 12194 गेहूं की बोरियों की हेराफेरी के लिए मार्कफेड के उक्त अधिकारी जिम्मेदार थे। इस प्रकार उपरोक्त अभियुक्तों ने इस गेंहू भण्डार का गबन कर राजकोष को 1,24,61,658 रुपये की हानि पहुंचाई है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में आगे की जांच चल रही है।