दिल्ली: तरन तारन ब्लास्ट का मास्टरमाइंड बिक्रमजीत सिंह की कोर्ट में हुई पेशी, NIA को मिला 8 दिन का रिमांड

दिल्ली: एनआईए ने तरन तारन बम ब्लास्ट के मास्टरमाइंड आरोपी बिक्रमजीत सिंह उर्फ बिक्कर पंजवार उर्फ बिक्कर बाबा को आज एनआईए कोर्ट में पेश किया। जहां अदालत ने आरोपी को 17 दिसंबर तक रिमांड पर भेज दिया है। बता दें कि एनआईए ने आरोपी बिक्रमजीत सिंह को इंटरपोल अधिकारियों की मदद से 8 दिसंबर को दिल्ली से गिरफ्तार किया है। आरोपी बिक्रमजीत ने अपने करीबी साथियों के साथ मिलकर पंजाब में आतंकी हमले करने के लिए एक गिरोह बनाया था। वह एनआईए केस RC -20/2019/NIA/DLI में फरार चल रहा था। जिसके चलते एनआईए ने उसे भारत वापस लाने के लिए एक टीम ऑस्ट्रिया भेजी थी। एनआईए की विशेष अदालत मोहाली द्वारा जारी NBW के बल पर और बाद में रेड नोटिस से फरार आरोपी बिक्रमजीत सिंह को 22-03-2021 को ऑस्ट्रिया के लिंज़ में हिरासत में लिया गया था। कानूनी कार्यवाही पूरी होने के बाद लिंज रीजनल कोर्ट ने गिरफ्तार आरोपी बिक्रमजीत सिंह को प्रत्यर्पित कर दिया।

जांच में पता चला था कि आरोपी बिक्रमजीत सिंह ने न केवल सह-आरोपी और अन्य को आतंकवादी कार्य करने के लिए उकसाया, बल्कि इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस बनाने और उनका इस्तेमाल करने का प्रशिक्षण भी दिया। इसके अलावा विभिन्न जुलूसों के दौरान वह बम लेकर चलता था और बड़े पैमाने पर आबादी में आतंक फैलाने के लिए अन्य प्रतिभागियों को सरकारी एजेंसियों पर हमला करने के लिए उकसाता था। वह डेरा मुरादपुरा को निशाना बनाने की साजिश का मुख्य साजिशकर्ता है। मामले में आगे की जांच जारी है, एनआईए कोर्ट में पेश किया गया और 17 तक रिमांड पर भेज दिया गया है।