तरनतारन में रॉकेट लॉन्चर से हमला: पाकिस्तानी लिंक का संदेह, RPG पर लिखा मिला ‘P-K’

तरनतारन: राज्य में एक बार फिर से आतंकी हमले की सूचना है। बीती रात करीब 1 बजे तरनतारन के सरहाली थाने के साझ केंद्र को निशाना बनाते हुए रॉकेट लांचर से हमला किया गया। हालांकि इस हमले किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। लेकिन मौके पर पुलिस व टीम पहुंच गई हैं। घटनास्थल को सील कर दिया है। वहीं, अब बड़ी खबर सामने आ रही है कि RPG पाकिस्तान से आया था। खबरों की मानें तो RPG पर 0-4-86 PK लिखा हुआ है जिसके बाद यह आशंका जताई जा रही है कि यह पाकिस्तान से आया हो सकता है।

थोड़ी देर में घटनास्थल पहुंचेंगे डीजीपी गौरव यादव

घटनास्थल पर भारी फोर्स में पुलिस तैनात है, लगातार आस-पास के सीसीटीवी खंगाले जा रहे हैं। वहीं थोड़ी ही देर में डीजीपी गौरव यादव घटनास्थल पर पहुंचेंगे और हालातों का जायजा लेंगे।

RPG नहीं फटा लेकिन टूटे शीशे

पुलिस अधिकारियों के अनुसार हमले में RPG तो नहीं फटा लेकिन थाने के एक हिस्से में बने सांझ केंद्र के शीशे टूट गए। जहां से शीशा टूटा है उस जगह को फोरेंसिक जांच के लिए सील कर दिया गया है।

आंतकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने ली जिम्मेदारी

वहीं अब इस हमले की आंतकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने जिम्मेदारी ली है। खबरों की मानें तो पन्नू ने एक वॉयस नोट के जरिए इस हमले की जिम्मेदारी ली है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो पन्नू का कहना है कि यह हमला बीते दिन हुए जालंधर के लतीफपुरा में कार्रवाई का बदला है। पन्नू ने कहा कि 1947 में पाकिस्तान से आकर बसे परिवारों को पंजाब सरकार ने बेघर किया है। पंजाब में हर घर में रॉकेट लांचर व बम पहुंच चुके हैं। पंजाब को भारत की हकूमत से आजादी दिलाएंगे। बता दें कि इससे पहले 6 मई को मोहाली में भी आरपीजी हमला किया गया था।