तरनतारन में रॉकेट लांचर से अटैक की आतंकी पन्नू ने ली जिम्मेदारी! कहा-जालंधर में हुई कार्रवाई का लिया बदला

तरनतारन: तरनतारन जिले में RPG का प्रयोग कर एक बार फिर से पुलिस को निशाना बनाया गया है। मिली जानकारी के अनुसार अमृतसर-बठिंडा हाईवे पर स्थित सरहाली थाने के साथ बने सांझ केंद्र में बीती रात 1 बजे रॉकेट लांचर से हमला किया गया। हालांकि हमले में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। पुलिस अधिकारियों ने हमले की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि हमले में RPG तो नहीं फटा लेकिन थाने के एक हिस्से में बने सांझ केंद्र के शीशे टूट गए। जहां से शीशा टूटा है उस जगह को फोरेंसिक जांच के लिए सील कर दिया गया है। वहीं अब इस हमले की आंतकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने जिम्मेदारी ली है। खबरों की मानें तो पन्नू ने एक वॉयस नोट के जरिए इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

जालंधर में हुई कार्रवाई का बदला

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो पन्नू का कहना है कि यह हमला बीते दिन हुए जालंधर के लतीफपुरा में कार्रवाई का बदला है। पन्नू ने कहा कि 1947 में पाकिस्तान से आकर बसे परिवारों को पंजाब सरकार ने बेघर किया है। पंजाब में हर घर में रॉकेट लांचर व बम पहुंच चुके हैं। पंजाब को भारत की हकूमत से आजादी दिलाएंगे। बता दें कि इससे पहले 6 मई को मोहाली में भी आरपीजी हमला किया गया था।