घरवाले नहीं माने तो प्रेमी जोड़े ने की आत्महत्या, फिर माता-पिता ने दोनों का पुतला बनवा करवाई शादी

अहमदाबाद: गुजरात के तापी जिले में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां के नवाला गांव में प्रेमी-प्रेमिका का रिश्ता उनके घरवालों को मंजूर नहीं था और उन्होंने शादी से इनकार कर दिया और उसके बाद छह महीने पहले प्रेमी-प्रेमिका ने एक-दूसरे को गले लगाकर खुदकुशी कर ली थी। इसके बाद उनके परिजनों ने आत्महत्या करने वाले लड़के-लड़की का पुतला बनाया और फिर उनके पुतलों से शादी की।

दरअसल, गणेश नाम का एक लड़का अपनी गर्लफ्रेंड रंजना से शादी करना चाहता था। अगस्त 2022 में गणेश रंजना को लेकर उसके घर पहुंचा था। उसके परिवार ने रिश्ते को अस्वीकार कर दिया। इसके बाद दोनों घर से निकल गए और कुछ घंटे बाद दोनों के शव एक पेड़ से रस्सी से लटके मिले।

रमेशभाई पड़वी ने कहा कि परिवार को लगता था कि दोनों एक-दूसरे से बहुत प्यार करते हैं। जो काम पहले दोनों के लिए नहीं हो पाता था अब इस तरह से किया जा सकता है। इस वजह से उनकी मौत के बाद दोनों की मूर्तियों की शादी हुई और घरवालों ने कहा कि हमें विश्वास है कि इससे उनकी आत्मा को शांति मिलेगी।

इसी के चलते दोनों के घरवालों ने लड़के और लड़की के पुतले तैयार करवाए और आदिवासी परंपरा के अनुसार शादी की सारी रस्में पूरी की गईं। इस मामले को लेकर कैलाश रामभाई पड़वी ने कहा कि लड़के और लड़की ने एक ही रस्सी से फंदा लगाकर आत्महत्या की है। उनके परिवार ने अपने बच्चों की आत्मा की शांति के लिए इस शादी का आयोजन किया है।