शराब के धंधे में लगाया ड्रग तस्करी का रुपया, AS एंड कंपनी के लुधियाना में 80 ठेके सील

लुधियाना : करोड़ों रुपयों की हैरोइन तस्करी के आरोप में गिरफ्तार शराब कारोबारी के बेटे अक्षय छाबड़ा ने ड्रग तस्करी से कमाए रुपयों को शराब के कारोबार में लगाया था। शुक्रवार को इस मामले में नारकोटिक कंट्रोल ब्यूरो (एन.सी.बी) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए ए.एस. एंड कंपनी के लुधियाना में तीन सर्कलों के 80 शराब के ठेके सील कर दिए। जांच के दौरान एन.सी.बी. ने लुधियाना व चंडीगढ़ में 20 जगहों पर छापामारी के दौरान 14 किलो से ज्यादा हैरोइन, 5 बोतल अवैध मॉर्फिन, 4 बोतल एच.सी.एल., अफीम, 23 किलो से ज्यादा नशीला पदार्थ, बड़ी मात्रा में कारतूस, विदेशी करंसी और बड़ी मात्रा में ड्रग मनी बरामद की है।

किंगपिन अक्षय छाबड़ा ने कबूला है कि उसने 1400 किलो हैरोइन मुंद्रा पोर्ट, गुजरात और अटारी बार्डर, पंजाब के रास्ते मंगवाई है और 250 किलो के करीब हैरोइन जम्मू-काश्मीर बार्डर के जरिए मंगवा चुका है। 15 नवंबर 2022 को एन.सी.बी. की टीम ने लुधियाना के दुगरी इलाके में छापामारी की। टीम ने शराब कारोबारी के बेटे अक्षय छाबड़ा के ड्राइवर जनता नगर के रहने वाले संदीप सिंह को गिरफ्तार किया। अक्षय छाबड़ा की लग्जरी गाड़ी से 20 किलो से ज्यादा हैरोइन, 17 ग्राम अफीम, 2 कारतूस, 5.50 लाख भारतीय करंसी, 3 हजार दराम (विदेशी करंसी) बरामद की। ड्राइवर संदीप सिंह ने बताया कि उसने ये हैरोइन अक्षय छाबड़ा को देनी थी। अक्षय छाबड़ा ने ही उसे इसके लिए भेजा था। इसके बाद एन.सी.बी. ने अक्षय छाबड़ा को नामजद किया और उसकी तलाश शुरू की। अक्षय छाबड़ा फरार हो चुका था।

बाद में एन.सी.बी. ने इस मामले में अक्षय छाबड़ा व गौरव गोरा उर्फ अजय कुमार को 24 नवंबर 2022 को जयपुर इंटरनैशनल एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया। वह देश छोड़कर शारजाह (यू.ए.ई) भागने की तैयारी में था। उसने पूछताछ में बताया कि लुधियाना की शराब कंपनी ए.एस. एंड कंपनी में उसकी 25 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जबकि लुधियाना के ए.एस. एंड कंपनी के लुधियाना के तीन सर्कलों के ठेकों फोर्टिस ग्रुप, गिल ग्रुप व ढोलेवाल ग्रुप में उसकी 100 प्रतिशत हिस्सेदारी है। अक्षय छाबड़ा शराब के ठेकों में लगाए रुपयों का स्त्रोत्र नहीं बता सका। उसने कबूला कि ड्रग तस्करी के रुपयों को ही उसने शराब के ठेकों में लगाया है। एन.सी.बी. ने ए.एस. एंड कंपनी के बैंक खातों को भी सील कर दिया है।