हिमाचल में अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव 19 से 25 फरवरी तक मनाया जाएगा

Spread the News

शिमला: हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी में होने वाले अंतरराष्ट्रीय महा शिवरात्रि महोत्सव को लेकर जिला प्रशासन ने तैयारियां शुरु कर दी हैं। उपायुक्त अरिंदम चौधरी ने शनिवार को बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी छोटी काशी मंडी में अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव बड़े ही धूमधाम से 19 से 25 फरवरी तक मनाया जाएगा, जिसमें सैंकड़ों देवी देवताओं के साथ ही होने वाली तीन शोभा यात्रएं भी मुख्य आकर्षण का केंद्र रहेंगी। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में पूर्व की तरह इस बार हिमाचल के कलाकारों को तरजीह दी जाएगी। शिवरात्रि महोत्सव के आयोजन के लिए आम जनमानस के सुझावों के आधार पर प्रारुप तैयार किया जाएगा।

इसी की वजह से शनिवार को जिला मुख्यालय में डीआरडीए सभागार में उपायुक्त मंडी एवं शिवरात्रि मेला समिति के अध्यक्ष श्री चौधरी ने तैयारियों को लेकर एक बैठक की। उन्होंने सभी अधिकारियों और समिति सदस्यों से इस कार्यक्रम में ज्यादा से ज्यादा आम जनमानस की सहभागिता सुनिश्ति करने के निर्देश दिए। इसके लिए 24 जनवरी को बिपाशा सदन में महोत्सव के आयोजन की रुपरेखा तैयार करने के लिए आम सभा की बैठक भी आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि देवताओं तथा बजंतरियों के ठहरने के लिए उचित व्यवस्था की जाएगी इसके साथ ही देवताओं की सुरक्षा के लिए भी उचित प्रबंध किए जाएंगे। अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि मेले में खेल प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाएगी जिसके लिए पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में कमेटी गठित की गई है। उन्होंने कहा कि यह मेला मंडी के लोगों का है और इसमें सभी का सहयोग अपेक्षित है।

बैठक के उपरांत देवता समिति के अध्यक्ष शिवपाल शर्मा ने बताया कि मंडी में जो देवताओं के बैठने की जगह बिलिं्डग बनाई जा रही है। ऐसे में सरकार और जिला प्रशासन मंडी पड्डल मैदान में ही देवताओं के लिए स्थाई स्थान दें ताकि शिवरात्रि देवता मेला में किसी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होंने बताया कि कुछ देवी देवता जो स्कूल में ठहरते थे। उनके लिए इस बार देव संस्कृति सदन कांगणी में व्यवस्था की जाएगी। वहीं बैठक में पहुंचे बड़ा देव कमरुनाग के गुरुदेव ने बताया कि उन्हें पहली बार देवता के साथ मंडी आने का मौका मिलेगा, और देवता की कृपा से सब ठीक रहेगा। बैठक में सरकारी और गैर सरकारी सदस्य मौजूद रहे।