यूट्यूब पर जगन्नाथ मंदिर की तस्वीरें अपलोड करने के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार

पुरी: ओडिशा की पुरी पुलिस ने उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में लगातार छापे मारने के बाद शुक्रवार को अनिमेष नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया, जिसने 03 दिसंबर, 2022 को कथित रुप से ड्रोन के माध्यम से जगन्नाथ मंदिर की विशेष तस्वीरें लीं और उन्हें व्यावसायिक गतिविधियों के लिए यूट्यूब पर अपलोड कर दिया।

यह जानकारी पुलिस उपाधीक्षक के हरिप्रसाद ने आज मीडियाकर्मियों को दी।पिछले वर्ष 04 दिसंबर को सिम्हाद्वार थाने में शिकायत प्राप्त होने के बाद अनिमेष के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया गया और पुलिस ने एक नोटिस जारी कर उसे पूछताछ के लिए बुलाया। अनिमेष ने उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत याचिका दायर की लेकिन वह खारिज हो गयी, जिसके बाद वह फरार हो गया। अनिमेष बार-बार अपना ठिकाना बदलता रहा जिसके कारण उसे पकड़ना बहुत मुश्किल हो रहा था लेकिन अंतत: पुलिस ने उसे कोलकाता के निमता थाने के अंतर्गत आने वाले एक स्थान पर गिरफ्तार कर लिया।

हरिप्रसाद ने बताया कि पुलिस ने उसका ड्रोन और मोबाइल फोन जब्त कर लिया है।अनिमेष को बैरकपुर में मजिस्ट्रेट के सामने प्रस्तुत किया गया और ट्रांजिट रिमांड मिलने पर पुरी लाया गया। शुक्रवार को पुलिस ने उनके खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया और अदालत में प्रस्तुत किया क्योंकि उसने नागरिक उड्डयन महानिदेशक (डीजीसीए) द्वारा अधिसूचित रेड जोन मानदंडों का उल्लंघन किया था। सब डिविजनल मजिस्ट्रेट ने उसकी जमानत याचिका खारिज करते हुए उसे हिरासत में भेज दिया। पुलिस उसके द्वारा बनाए गए मंदिर के वीडियो की मार्केटिंग करने की जांच कर रही है।