शिक्षक भर्ती घोटाला मामलाः ED ने तृणमूल कांग्रेस नेता Kuntal Ghosh काे किया गिरफ्तार

कोलकाताः प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शनिवार को पश्चिम बंगाल के तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेता कुंतल घोष को कथित शिक्षक भर्ती घोटाले के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। ईडी के सूत्रों ने बताया कि घोष को शिक्षक भर्ती मामले में न्यू टाउन में चिनार पार्क में स्थित उनके आवास से आज तड़के गिरफ्तार कर लिया गया। इससे पहले सीबीआई ने बुधवार देर रात को अपने निजाम पैलेस कार्यालय में हुगली जिले के टीएमसी के युवा विंग के नेता से पूछताछ की और शुक्रवार को करीब सात बजे से ईडी ने 24 घंटे से अधिक समय तक उनके दो आवासों की तलाशी ली।

उन्होंने बताया कि केंद्रीय सशस्त्र बलों की सहायता से ईडी के अधिकारी घोष को औपचारिकताएं पूरी करने के लिए साल्ट लेक स्थित सीजीओ कॉम्प्लेक्स ले गए जिसके बाद, उन्हें न्यायिक प्रक्रिया के लिए पेश किया जाएगा। एक अन्य आरोपी तपन मंडल के सीबीआई को दिए बयान के अनुसार घोष पर 2014 से 2021 के बीच नौकरी चाहने वालों से 19.5 करोड़ रुपए की धनराशि एकत्र करने का आरोप लगाया गया है। कलकत्ता उच्च न्यायालय के एक आदेश के बाद उनके खिलाफ जांच की गई।

सीबीआई के अनुसार, टीएमसी नेताओं द्वारा कथित तौर पर राज्य भर के सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में शिक्षकों और कर्मचारियों के रुप में नौकरी करने के इच्छुक उम्मीदवारों से एक सौ करोड़ रुपये से अधिक जुटाए गए थे। बंगाल के निजी-संचालित कॉलेजों और संस्थानों के संघ के अध्यक्ष तपन मंडल ने नेता कुंतल घोष पर सीबीआई द्वारा पूछताछ के दौरान नौकरी चाहने वालों से पैसे उगाहने का आरोप लगाया था।