राष्ट्र को तेज गति से विकास के पथ पर आगे बढ़ने में सहयोग करें कैडेट: Rajnath Singh

नयी दिल्ली: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के कैडेटों से देश के मूल्यों तथा परंपराओं से जुड़े रहते हुए नए तरीकों की पहचान करने और राष्ट्र को तेज गति से विकास के पथ पर आगे बढ़ने में सहायता करने की अपील की है। सिंह ने शनिवार को यहां एनसीसी के गणतंत्र दिवस शिविर का दौरा किया और कैडेटों को उनके असाधारण प्रदर्शन एवं कर्तव्य के प्रति समर्पण के लिए रक्षा मंत्री पदक और प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। इस वर्ष रक्षा मंत्री पदक पूर्वोत्‍तर क्षेत्र निदेशालय के अवर अधिकारी तिंगगेचिले नरीमे और राजस्थान निदेशालय के कैडेट अविनाश जांगिड़ को प्रदान किया गया। रक्षा मंत्री प्रशस्ति पत्र ओडिशा निदेशालय के कैप्टन प्रताप केशरी हरिचंदन, तमिलनाडु, पुडुचेरी तथा अंडमान और निकोबार निदेशालय के कैडेट अवर अधिकारी जेनी फ्रांसिना विक्टर आनंद, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख निदेशालय के कैडेट फिजा शफी तथा उत्तराखंड निदेशालय के कैडेट सहवाग राणा को प्रदान किए गए।

रक्षा मंत्री ने शिविर में भाग ले रहे लगभग 2,000 कैडेटों को संबोधित करते हुए कहा कि कैडेट देश को विकास के पथ पर तेजी से आगे बढने में मदद करें लेकिन देश के सदियों पुराने मूल्यों और परंपराओं से जुड़े रहें तथा अपनी पसंद के क्षेत्र में विनम्रता के साथ काम करें। बदलते समय के अनुसार खुद को ढालने की आवश्यकता पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार तेजी से बदल रहे वैश्विक सुरक्षा परिदृश्य के कारण उत्पन्न होने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए राष्ट्र को तैयार करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। उन्होंने कहा कि समय के साथ परिवर्तन जरूरी है, लेकिन देश के गौरवशाली अतीत से जुड़े रहना भी उतना ही महत्‍वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य अपनी संस्कृति और परंपराओं की जड़ों से जुड़े रहकर एक शक्तिशाली और समृद्ध भारत का निर्माण करना है।