खेल मंत्री अनुराग संग बैठक के बाद पहलवानों ने धरना किया खत्म

नई दिल्ली : बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट और अन्य सम्मानित पहलवानों ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ बैठक के बाद भारतीय कुश्ती संघ के खिलाफ जंतर-मंतर पर 3 दिन से चल रहे अपने विरोध प्रदर्शन को शुक्रवार देर रात समाप्त किया। पूनिया ने कहा, ‘हम अपना प्रदर्शन खत्म कर रहे हैं, क्योंकि सरकार ने हमें आश्वासन दिया है कि न्याय होगा। डब्ल्यूएफआई के दिन-प्रतिदिन के कार्यों को संभालने और हमारी चिंताओं को देखने के लिए एक समिति बनाने का निर्णय लिया गया है।

खेल मंत्री ने कहा कि खिलाड़ियों की सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है क्योंकि खिलाड़ियों को महासंघ से पहले भी धमकियां मिल चुकी हैं। मंत्री ने हर कदम पर हमें अपना समर्थन दिया है। हमारा खेल बहुत दूर आ गया है और हम यह विरोध भी नहीं चाहते थे लेकिन चीजें इतनी हाथ से निकल गई कि हमें ऐसा कदम उठाना पड़ा।’ डब्ल्यूएफआई ने मंत्रालय को पत्र लिखा, बृज भूषण के खिलाफ सभी आरोप खारिज किए नई दिल्ली. भारतीय कुश्ती महासंघ ने केंद्रीय खेल मंत्रालय को जवाब देते हुए महासंघ के अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह के खिलाफ शीर्ष भारतीय पहलवानों द्वारा लगाए गए यौन शोषण सहित सभी आरोपों को खारिज कर दिया।

डब्ल्यूएफआई ने मंत्रालय को भेजे एक जवाब में शनिवार को कहा, ‘डब्ल्यूएफआई अपने संविधान के अनुसार एक चुनी हुई संस्था है, इसलिए अध्यक्ष सहित किसी के द्वारा व्यक्तिगत रूप से मनमाने रवैये और कुप्रबंधन का सवाल ही पैदा नहीं होता।’ जवाब में कहा गया है, ‘डब्ल्यूएफआई ने अपने मौजूदा अध्यक्ष के तहत पहलवानों के हितों का हमेशा पूरा ध्यान रखा है। डब्लूएफआई ने कुश्ती खेल की राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर साख बढ़ाई है और यह डब्ल्यूएफआई के निष्पक्ष, सहयोगी, साफ-सुथरे और कड़े प्रबंधन के बिना संभव नहीं हो पाता।’