मुंबई दौरे पर गए CM Mann ने उद्योग के पदाधिकारियों से की बैठक, पंजाब में निवेश के लिए किया आमंत्रित

मुंबई/ चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज उद्योग जगत की प्रमुख हस्तियों का हार्दिक स्वागत किया और उनको औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के लिए राज्य में निवेश करने का न्योता दिया। मुख्यमंत्री ने अपने मुंबई दौरे के दौरान गोदरेज़, हिंदुस्तान यूनीलिवर, मफ़तलाल ग्रुप, महिंद्रा एंड महिंद्रा, जिन्दल स्टीलज़ और अन्य उद्योगपतियों के साथ विस्तृत बातचीत की। उन्होंने पंजाब को इन औद्योगिक इकाईयों के लिए सबसे पसन्दीदा स्थान बताते हुए उनको राज्य में निवेश करने के लिए कहा। भगवंत मान ने उनको यह भी बताया कि राज्य सरकार निवेशकों की सुविधा के लिए सिंगल विंडो सिस्टम को और मज़बूत करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि औद्योगिक शान्ति और अत्याधुनिक बुनियादी ढांचे के सुमेल वाली राज्य सरकार की नीतियाँ राज्य में औद्योगिक विकास के लिए उपयुक्त माहौल प्रदान करती हैं। भगवंत मान ने कहा कि पहले सिंगल विंडो सेवा सिर्फ़ धोखा और छलावा था और इसका कोई सार्थक मनोरथ नहीं था जिसने न सिर्फ़ संभावित निवेशकों का मनोबल तोड़ा बल्कि राज्य के औद्योगिक विकास में भी रुकावट डाली। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब उनकी सरकार ने यह यकीनी बनाया है कि सिंगल विंडो सिस्टम राज्य में निवेश करने के इच्छुक उद्यमियों के लिए सही मायनों में सुविधा के तौर पर काम करे।

हिंदुस्तान यूनीलिवर के नुमायंदों के साथ मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने उनको नाभा में स्थापित टोमाटो कैचअप्प के प्लांट का विस्थार करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार राज्य के किसानों को पंजाब में टमाटरों की बुवाई करने के लिए उत्साहित करेगी जिससे उनकी आर्थिकता में सुधार होगा। कंपनी ने भगवंत मान को भरोसा दिलाया कि वह राज्य में अपना यूनिट स्थापित करने की संभावना का पता लगाएंगे।

मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य जांच और देखभाल संबंधी लैबोरेटरियों की भारतीय बहु-राष्ट्रीय कंपनी थाईरोकेयर के प्रतिनिधिमंडल के साथ भी विस्तार में मीटिंग की। मीटिंग के दौरान उन्होंने कंपनी के नुमायंदों को अवगत करवाया कि राज्य सरकार लोगों को मानक सेहत सेवाएं प्रदान करने पर ज़ोर दे रही है। भगवंत मान ने कंपनी को राज्य के अलग-अलग शहरों में लैबोरेटरियाँ स्थापित करने का न्योता भी दिया जिससे लोगों को सुविधा पहुंचायी जा सके। मफ़तलाल ग्रुप के साथ मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने उनको राज्य में निवेश करने का न्योता दिया। उन्होंने कहा कि राज्य के कपास पट्टी विश्व भर में सबसे बढ़िया कपास पैदा करती है जिसको उत्तम दर्जे का कपड़ा बनाने के लिए कच्चे माल के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। भगवंत मान ने कंपनी को राज्य में निवेश करने के लिए कहा क्योंकि राज्य में विकास की बड़ी संभावनाएं हैं।

महिंद्रा एंड महिंद्रा के नुमायंदों के साथ मीटिंग में हिस्सा लेते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में पर्यटन क्षेत्र ख़ास कर रणजीत सागर डैम, चोहाल डैम और अन्य प्रोजेक्टों के आसपास बड़ी संभावनाएं हैं। कंपनी ने राज्य में क्लब महिंद्रा रिजोर्ट की अपनी चेन स्थापित करने के लिए गहरी रूचि दिखाई। उन्होंने मुख्यमंत्री को लालड़ू में स्वराज ट्रैक्टरज़ के अपग्रेड किये प्लांट के उद्घाटन के लिए भी न्योता दिया। कोटक महिंद्रा बैंक के प्रतिनिधिमंडल के साथ मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने राज्य में बैंकिंग क्षेत्र के विस्तार की संभावनाओं के बारे भी चर्चा की। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को भरोसा दिलाया कि पंजाब में उनका कारोबार स्थापित करने के लिए राज्य सरकार उनको पूरा सहयोग देगी। भगवंत मान ने कहा कि सरकार राज्य की तरक्की और लोगों की खुशहाली को बढ़ावा देने के लिए वचनबद्ध है।

इस दौरान लॉजिस्टिक कंपनी हिंद ट्रमीनलज़ के प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में इस सैक्टर के विकास की बड़ी संभावना है। उन्होंने किला रायपुर में अपने यूनिट के विस्तार के लिए कंपनी को पूरा सहयोग देने का भरोसा दिया। भगवंत मान ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से लॉजिस्टिक पार्क को बढ़ावा दिया जायेगा।
मुख्यमंत्री ने गोदरेज़ ग्रुप के साथ भी विस्तार में बातचीत की जिन्होंने बाद दोपहर मुख्यमंत्री के साथ मुलाकात की। भगवंत मान ने ग्रुप को कृषि सैक्टर में निवेश करने के लिए कहा जिससे किसानों को बड़ा लाभ मिलेगा। उन्होंने ग्रुप को रियल सैक्टर में भी विस्तार की संभावना तलाशने के लिए कहा।

जिन्दल स्टील के साथ मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने उनको राज्य में निवेश के लिए कहा क्योंकि राज्य में विकास पर तरक्की के असीम मौके हैं। उन्होंने कहा कि बिजली सरपलस में राज्य आगे बढ़ रहा है जो औद्योगिक तरक्की में मददगार साबित हो सकता है। भगवंत मान ने कहा कि राज्य सरकार तरक्की के विकास के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि 23-24 फरवरी को मोहाली में करवाया जा रहा ‘निवेश पंजाब सम्मेलन’ राज्य के औद्योगिक विकास को काफी बढ़ावा देने के लिए मील पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से इस सम्मेलन के लिए प्रबंधों को अंतिम रूप में दिया जा रहा है। भगवंत मान ने कहा कि वह दिन दूर नहीं जब औद्योगिक विकास के क्षेत्र में पंजाब सफलता का नया इतिहास सृजित करेगा।