सड़क पर गड्ढों के कारण दादा काे लगी चाेट, फिर 8वीं के स्कूली छात्र ने उठाया ये कदम

Spread the News

पुडुचेरीः पुडुचेरी में अपने इलाके में एक सड़क पर गड्ढों के कारण दादा को चोट लगने के बाद आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र मसिलामणि ने गड्ढों को भरकर खस्ताहाल सड़क को ठीक करने की ठानी। मसिलामणि के दादा कुछ दिन पहले सड़क पर मौजूद गड्ढे के कारण मोटरसाइकिल से गिर गए थे और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हड्डी टूटने के कारण उन्हें प्लास्टर चढ़ाना पड़ा था। इसके बाद, 13 वर्षीय मसिलामणि ने अपने गांव में कई जगह पड़ी रेत, बजरी और अन्य सामान एकत्रित किया तथा उन्हें सीमेंट के साथ मिलाने के बाद पड़ोसी विलियानूर के सेंधनाथम में सड़क के गड्ढे भरना शुरू कर दिया।

मसिलामणि ने पूर्व विधायक वय्यापुरी माणिकंदन से प्रशस्ति के रूप में पुस्तक प्राप्त करते हुए कहा, कि ‘मैं बस यही चाहता हूं कि कोई भी दुर्घटना का शिकार न हो और किसी को चोटें न आएं, जैसे कि मेरे दादा जी के साथ हुआ।’’ इस काम के लिए मसिलामणि के पड़ोसियों ने उसे बधाई दी और एक शॉल भी भेंट की हैं। गांव के एक निवासी ने मसिलामणि से मिलने के बाद कहा कि पुडुचेरी-पथुकन्नू मार्ग की हालत पिछले 7 साल से बेहद खराब है और सड़क की मुरम्मत के लिए कुछ नहीं किया गया।