पंजाबियों की खून-पसीने की कमाई को दूसरे राज्य में पार्टी प्रचार के लिए लूटा रही मान सरकार: Sukhdev Dhindsa

चंडीगढ़: शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के अध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री सुखदेव सिंह ढींढसा ने कहा कि पंजाब में मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी सरकार की गलत व जनविरोधी नीतियों के कारण सरकार व अफसरशाही के बीच टकराव बढ़ रहा है. सुखदेव सिंह ढींढसा ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि हाल ही में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव अजय शर्मा का तबादला इसलिए कर दिया गया क्योंकि उन्होंने मोहल्ला क्लीनिक के प्रचार के लिए 30 करोड़ रुपये देने से इनकार कर दिया। ढींढसा ने कहा कि यह पैसा आम आदमी पार्टी द्वारा मोहल्ला क्लीनिक के नाम पर दूसरे राज्यों में पार्टी के प्रचार पर खर्च किया जाना था।

जिसकी स्वीकृति नहीं मिलने पर स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अजय शर्मा का तबादला कर दिया गया है और उनके खिलाफ जांच के आदेश भी दे दिये गये हैं। ढींडसा ने कहा कि सरकार के रुख से साफ है कि सरकार की गलत नीतियों का विरोध करने वाले किसी भी अधिकारी को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में प्रदेश के अस्पतालों खासकर ग्रामीण डिस्पेंसरियों की बदहाली पर ध्यान देने की जरूरत है। जहां लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए भी तरस रहे हैं। अधिकांश अस्पतालों में विशेषज्ञ डॉक्टर नहीं हैं। माननीय सरकार मोहल्ला क्लीनिक खोलने से पहले इन डिस्पेंसरियों और अस्पतालों पर ध्यान दे। लेकिन आम आदमी पार्टी की सरकार अपने राजनीतिक हितों को साधने के लिए मोहल्ला क्लीनिकों के करोड़ों विज्ञापन दूसरे राज्यों को दे रही है।

उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल के इशारे पर भगवंत मान दूसरे राज्यों में विज्ञापन देकर पंजाबियों की खून पसीने की कमाई लूटा रहे हैं. जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ढींडसा ने आगे कहा कि मान सरकार दिल्ली से चलाई जा रही है और जो अधिकारी दिल्ली से आदेश मानने से इनकार करते हैं उनका रातों-रात तबादला कर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि कुछ समय पहले मान सरकार के व्यवहार से तंग आकर पीसीएस पदाधिकारी भी हड़ताल पर चले गए थे और मुख्यमंत्री भगवंत मान की धमकी के बाद उन्होंने हड़ताल खत्म कर दी थी लेकिन सरकार के रवैये के प्रति उनकी नफरत खत्म नहीं हुई।