तुर्की की सबसे तेज “Made in China” मेट्रो आधिकारिक तौर पर लगी चलने

22 जनवरी को चीनी चंद्र नव वर्ष का पहला दिन है। तुर्की में सबसे तेज मेड इन चाइना मेट्रो आधिकारिक तौर पर चलने लगी है। वह इस्तांबुल हवाई अड्डे और शहर के केंद्र को जोड़ने वाली एक नई मेट्रो लाइन है, जो चीन की विदेशों में निर्यात की जाने वाली पहली 120 किलोमीटर प्रति घंटे की पूरी तरह से स्वचालित चालक रहित मेट्रो ट्रेन परियोजना को ऑपरेशन में लगाये जाने का द्योतक है।
नई परिचालन वाली मेट्रो लाइन इस्तांबुल हवाई अड्डे और तुर्की के शहर के केंद्र को जोड़ती है, जो तुर्की के इतिहास में पहली हाई-स्पीड मेट्रो लाइन है। इस मेट्रो ट्रेन को एक चीनी कंपनी ने बनाया है और ट्रेन में कुल 4 मार्शलिंग और अधिकतम 1,100 लोगों को ले जाने की क्षमता है।

पूरी तरह से स्वचालित ड्राइविंग डिजाइन से चीन द्वारा बनायी गयी मेट्रो ट्रेन विभिन्न मानव रहित ऑपरेटिंग परि²श्यों की जरूरतों के अनुकूल हो सकती हैं। इसके अलावा, मेट्रो ट्रेन वाहन पुन: संयोजन ऑपरेशन तकनीक को अपनाती है, जिससे मार्शलिंग को अधिक लचीला बनाया गया है और ट्रेन अलग-अलग समय में यात्री प्रवाह की जरूरतों के अनुकूल हो सकती है।

इस्तांबुल एयरपोर्ट मेट्रो लाइन की कुल लंबाई 34 किलोमीटर है और यह इस्तांबुल के 3 जिलों के 9 स्टेशनों से होकर गुजरती है। ट्रेन के चालू होने के बाद, यह अनुमान है कि औसत दैनिक यातायात की मात्रा 8 लाख से अधिक लोगों तक पहुंच जाएगी। तुर्की के परिवहन मंत्री ने पहले कहा था कि अगले 30 वर्षों में, यह मेट्रो लाइन तुर्की के लिए 30 लाख अमेरिकी डॉलर से अधिक की बचत करेगी, और रखरखाव की लागत, वायु प्रदूषण और यात्रा के समय को बहुत कम कर देगी।

(साभार—चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)