अमेरिका गोलीबारी मामला: 10 लोगों की हत्या करने वाले हमलावर की वैन में मिली डेड बॉडी

Spread the News

मोंटेरी पार्क (अमेरिका): अमेरिका के लॉस एंजिलिस में ‘लूनर न्यू ईयर’ (चंद्र नववर्ष) के जश्न के दौरान गोलियां चलाकर 10 लोगों की हत्या करने वाला संदिग्ध हमलावर रविवार को एक वैन में मृत मिला। वह गोलीबारी की दूसरी घटना को अंजाम देने में नाकाम रहने के बाद इसी वैन से फरार हो गया था। उसके शरीर पर गोली के निशान हैं। ऐसा माना जा रहा है कि उसने खुद को गोली मारी थी।

वहीं, अधिकारी हमलावर की मंशा का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं जिसकी वजह से पूरे एशियाई अमेरिकी समुदायों में भय का माहौल पैदा हो गया है। अधिकारियों ने बताया कि संदिग्ध हमलावर की पहचान 72 वर्षीय हू कैन त्रन के रूप में हुई है। न्यूयॉर्क टाइम्स की खबर के मुताबिक जिस क्लब में यह घटना हुई उसके संचालक के परिवार के एक सदस्य ने हमलावर से बंदूक छीन ली थी।

मोंटेरी पार्क में हुआ नरसंहार इस महीने देश में पांचवीं गोलीबारी की घटना है। इसमें कैलिफोर्निया राज्य में कई एशियाई संस्कृतियों में मनाए जाने वाले उत्सवों को निशाना बनाया गया है जो देश में समुदाय के खिलाफ हिंसक घटनाओं का एक और उदाहरण है। पिछले साल 24 मई को अमेरिका के टेक्सास राज्य के उवाल्डे स्थित स्कूल में हुई गोलीबारी के बाद यह दूसरी सबसे बड़ी घटना है। टेक्सास की घटना में 21 लोग मारे गए थे।

लॉस एंजिलिस के काउंटी शेरिफ रॉबर्ट लूना ने बताया कि इस मामले में कोई और संदिग्ध नहीं है। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस हमले के पीछे के मकसद का अभी पता नहीं चला है। हमले में 10 अन्य लोग घायल भी हुए हैं जिनमें सात अब भी अस्पताल में भर्ती हैं। लूना ने रविवार शाम संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पीड़ितों की उम्र नहीं बतायी लेकिन वे 50 से अधिक वर्ष की आयु के लगते हैं। शेरिफ ने बताया कि संदिग्ध के पास अर्ध स्वचालित पिस्तौल थी और एक दूसरी हैंडगन उस वैन से बरामद की गयी, जिसमें वह मृत मिला। मोंटेरी पार्क पुलिस प्रमुख स्कॉट वीस ने रविवार शाम को बताया कि गोलीबारी की सूचना मिलने के तीन मिनट के भीतर अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए थे जहां उन्हें कई शव मिले और लोग दरवाजों से भागने की कोशिश करते हुए दिखे।

वीस ने बताया, ‘‘ जब वे पाíकंग वाले इलाके में आए तो वहां अफरा-तफरी का माहौल था।’’ लूना ने बताया कि पहले हमले के करीब 20-30 मिनट बाद बंदूकधारी नजदीकी अल्हाम्ब्रा में लाई लाई बालरूम में घुसा, लेकिन वहां मौजूद लोगों ने उससे हथियार छीन लिया जिसके बाद वह भाग गया। टाइम्स की खबर के मुताबिक बंदूकधारी क्लब में दाखिल हुआ और बंदूक ब्रांडन से की ओर तान दी जो अपने दादा द्वारा शुरू किए गए इस क्लब में सप्ताह के कुछ दिन काम करते हैं। से ने बताया कि बंदूकधारी की लोगों को नुकसान पहुंचाने की मंशा जान मैंने तुरंत उसकी बंदूक पकड़ ली और हथियार पर नियंत्रण हासिल करने से पहले हम दोनों में संघर्ष हुआ।

पुलिस ने कहा था कि इस हमले में एक से अधिक व्यक्ति शामिल हैं। इसपर त्से और उनके परिवार ने कहा कि सुरक्षा फुटेज दिखाते हैं कि 26 वर्षीय कम्प्यूटर कोडर ने अकेले इस हमले को और बड़ा होने से रोक दिया। चश्मदीदों ने बताया कि संदिग्ध सफेद रंग की वैन में फरार हुआ। वैन घटनास्थल से 22 किलोमीटर दूर टॉरेंस में मिला जो कई एशियाई अमेरिकी समुदायों का एक प्रमुख निवास स्थल है। वाहन को कई घंटे तक घेरे रहने के बाद कानून प्रवर्तन अधिकारी उसमें दाखिल हुए और उन्हें एक शव मिला जिसे बाद में वहां से हटाया गया। मौके से जाने से पहले स्वात टीम ने वाहन की जांच की।