पंजाब के 15 स्कूलों में साइंस और कॉमर्स ब्लॉक बनाने के लिए 4.53 करोड़ रुपये की राशि मंजूर: Harjot Singh Bains

Spread the News

चंडीगढ़: पंजाब के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को समय पर शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार द्वारा राज्य के 15 सीनियर सेकेंडरी स्कूलों में शुरू किए गए विज्ञान और वाणिज्य समूहों के नए शैक्षिक ब्लॉकों के निर्माण के लिए 4.53 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की गई है। इस संबंध में जानकारी देते हुए पंजाब के स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने आज यहां कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार का उद्देश्य राज्य के शिक्षा ढांचे को पूरे देश में नंबर एक बनाना है। इसे पूरा करने के लिए शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार और भवनों को भव्य बनाने का काम चल रहा है। बैंस ने कहा कि प्रदेश के 12 वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान के नए समूह शुरू किए गए हैं.

इनमें जिला बठिंडा का सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल घुद्दा व कन्या स्कूल मंडी कलां, जिला फजिला के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल कुंडल व धर्मपुरा, जिला जालंधर का सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल लसाड़ा, मनसा जिला का सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल बरेटा गर्ल्स, झुनीर, ख्याला कलां गर्ल्स और करंडी, पटियाला जिला के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल करमगढ़-शतराना, जिला संगरूर के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल और जिला तरनतारन के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल वल्टोहा को साइंस ब्लॉक के निर्माण के लिए प्रति विद्यालय 33 लाख रुपये की राशि स्वीकृत कर कुल 3.96 करोड़ रुपये स्वीकृत किये गये हैं।

उन्होंने कहा कि जिला बरनाला के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल भदौर बालिका, जिला फाजिल्का के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल कल्लर खेड़ा तथा जिला पटियाला के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल करमगढ़-शतराना में कॉमर्स ब्लॉक के लिए 19.15 लाख रुपये प्रति स्कूल की राशि मंजूर करके कुल 57.45 लाख रुपए की परवानगी दी जा चुकी है। शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने कहा कि वह लगातार स्कूलों के सुधार के लिए प्रयासरत हैं और उनका उद्देश्य पंजाब में ऐसी शिक्षा व्यवस्था विकसित करना है जहां कोई भी बच्चा आर्थिक तंगी के कारण शिक्षा से वंचित न रहे.