केबिनेट मंत्री Chetan Jauramajra ने रक्षा सेवा कल्याण विभाग के विभिन्न प्रोजेक्टों का लिया जायज़ा

Spread the News

चंडीगढ़: मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व में पंजाब के रक्षा सेवा कल्याण मंत्री श्री चेतन सिंह जौड़ामाजरा ने चंडीगढ़ में रक्षा सेवा कल्याण डायरैक्टोरेट पंजाब का दौरा किया। रक्षा सेवा कल्याण, पंजाब के प्रमुख सचिव की तरफ से परिचय और स्वागती भाषण के बाद, ब्रिगेडियर सतीन्द्र सिंह (सेवामुक्त) ने उनको रक्षा सेवा कल्याण डायरैक्टोरेट के कामकाज के बारे जानकारी दी। उन्होंने रक्षा सेवाओं के डायरैक्टोरेट की तरफ से पंजाब के पूर्व सैनिकों के भलाई के लिए किये जा रहे प्रयत्नों की भरपूर सराहना की।

जौड़ामाजरा ने विभाग को कामकाज में आ रही दिक्कतों के बारे भी चर्चा की। उन्होंने हिदायत की कि ज़िला रक्षा सेवा कल्याण अफसरों और अन्य स्टाफ के खाली पड़े पदों को पहल के आधार पर भरने के लिए ठोस प्रयास किये जाएँ। उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि पंजाब के सरहदी क्षेत्रों में और प्री-रिकरूटमैंट सैंटर खोलें जाएँ जिससे नौजवानों को नशों से दूर किया जा सके।

उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि पंजाब स्टेट वॉर हीरोज़ मेमोरियल और म्युज़ियम के बारे लोग बहुत कम जागरूक हैं। उन्होंने हिदायत की कि अजायब घर में रोज़मर्रा के आने वाले सैलानियों की जागरूकता बढ़ाने के लिए अलग-अलग कदम उठाए जाएँ। मंत्री ने यह भी भरोसा दिया कि पंजाब सरकार जल्द ही कपूरथला में मौजूदा सैनिक स्कूल का मैमोरैंडंम सहीबद्ध करने और नया सैनिक स्कूल खोलने का मुद्दा केंद्र सरकार के पास उच्च स्तर पर उठाएगी।

मंत्री ने पैसको की तरफ से पूर्व फौजियों (ईऐसऐम) के लिए कल्याण संस्था के तौर पर किये जा रहे कामों की भी सराहना की। उन्होंने सरकारी संस्थाओं में पूर्व फौजियों के लिए अन्य पदों के लिए पैसको को भरोसा दिलाया। उन्होंने पैसको को किराये की रिहायश के बोझ को घटाने के लिए अतिरिक्त पीवीटीआईज की योजना बनाने और पीवीटीआई मोहाली को सैक्टर 82 में तबदील करने के निर्देश दिए। उन्होंने हिदायत की कि पंजाब और चंडीगढ़ के डीसी रेटों के बीच वेतन समानता घटाने के लिए मामला सम्बन्धित अधिकारियों के समक्ष उठाया जाये।