Maruti Q3 का मुनाफा दोगुना से अधिक होकर 2,351 करोड़ रुपये पर

नयी दिल्ली: देश की प्रमुख वाहन कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) का चालू वित्त वर्ष की दिसंबर में समाप्त तीसरी तिमाही का शुद्ध लाभ दोगुना से अधिक होकर 2,351.3 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। नए उत्पादों के बूते बिक्री में भारी उछाल कंपनी का शुद्ध लाभ बढ़ा है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 1,011.3 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कंपनी ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी शुद्ध बिक्री बढक़र 27,849.2 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 22,187.6 करोड़ रुपये रही थी।

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी ने इस तिमाही के दौरान 4,65,911 वाहन बेचे। कंपनी ने घरेलू बाजार में जहां 4,03,929 वाहनों की बिक्री की जबकि 61,982 वाहनों का निर्यात किया। पिछले वित्त वर्ष में समान तिमाही में कंपनी ने 4,30,668 वाहनों की बिक्री की थी, जिनमें 3,65,673 वाहन घरेलू बाजार में जबकि 64,995 वाहनों का निर्यात किया गया था। एमएसआई ने कहा कि ग्रांड विटारा और ब्रेजा के नए मॉडल पेश किए जाने के कारण एसयूवी श्रेणी में उसकी बिक्री में भारी उछाल आया। कंपनी ने कहा कि तीसरी तिमाही में उपभोक्ताओं की ओर से 3,63,000 वाहनों की बुकिंग प्रतीक्षा अवधि में है, जिनमें से लगभग 1,19,000 वाहनों की बुकिंग हाल ही में पेश मॉडलों की हैं। दिसंबर के अंत तक चालू वित्त वर्ष के पहले नौ माह में कंपनी ने 5,425.6 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया, जो पूर्ववर्ती वित्त वर्ष समान अवधि के 1,927.4 करोड़ रुपये का दोगुने से भी अधिक है।

कंपनी ने कहा कि उसने अप्रैल से दिसंबर के बीच 81,679 करोड़ रुपये के वाहनों की बिक्री की, जो पूर्ववर्ती वित्त वर्ष के इतने ही समय के 58,284.1 करोड़ रुपये से कहीं ज्यादा है। एमएसआई ने कहा कि अप्रैल-दिसंबर, 2022 में कंपनी ने 14,51,237 वाहन बेचे, जिनमें 12,56,623 वाहन घरेलू बाजार में जबकि 1,94,614 वाहनों का निर्यात किया। वहीं अप्रैल-दिसंबर, 2021 में कंपनी ने 11,63,823 वाहनों की बिक्री की थी, जिनमें से 9,93,901 वाहन घरेलू बाजार में बेचे गए थे, जबकि 1,69,922 वाहनों का निर्यात किया गया था। बीएसई पर कंपनी का शेयर 2.4 प्रतिशत की बढ़त के साथ 8,639.7 रुपये पर कारोबार कर रहा था।