‘भारत जोड़ो यात्रा’ के बाद ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के लिए कांग्रेस ने कसी कमर, बैठक कर लगाई जिम्मेदारियां

चंडीगढ़ः हरियाणा में कांग्रेस का कुनबा लगातार बढ़ता जा रहा है। एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा व प्रदेश अध्यक्ष चौधरी उदयभान के नेतृत्व में पार्टी में बंपर जॉइनिंग हुई। पूर्व विधायक और भिवानी से जेजेपी प्रत्याशी रहे शिव शंकर भारद्वाज, जींद से पूर्व मंत्री स्व. मांगेराम गुप्ता के पुत्र और जेजेपी प्रत्याशी रहे महावीर गुप्ता, बीजेपी किसान सेल के प्रदेश उपाध्यक्ष सतीश राणा, महाराज सुखबीर दास जी, नवीन सांगवान, कपिल शर्मा और राजेंद्र शर्मा के साथ आधा दर्जन नेताओं ने अपने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस ज्वाइन की।

‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के लिए प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में बुलाई गई पार्टी डेलिगेट्स, विधायकों, पूर्व विधायकों, कार्यकारी अध्यक्षों व वरिष्ठ नेताओं की बैठक में जॉइनिंग समारोह हुआ। भूपेंद्र हुड्डा और चौधरी उदयभान ने सभी नेताओं का पार्टी में स्वागत किया। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ महीनों में अबतक 15 से ज्यादा बीजेपी-जेजेपी समेत अन्य दलों के पूर्व विधायक और लगभग 50 बड़े नेता कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं। सत्ताधारी दलों को छोड़कर नेता व कार्यकर्ता कांग्रेस का दामन थाम रहे हैं। इससे पता चलता है कि प्रदेश में आने वाला समय कांग्रेस का है और जनता इस बार निश्चित तौर पर कांग्रेस की सरकार बनाने जा रही है।

‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के लिए हरियाणा के संयोजक बनाए गए दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वरिष्ठ नेता सुभाष चोपड़ा विशेष तौर पर बैठक में मौजूद रहे। उन्होंने हरियाणा में भारत जोड़ो यात्रा की सफलता के लिए सभी नेता व कार्यकर्ताओं को बधाई दी। साथ ही उन्होंने कहा कि इस यात्रा ने देश और पार्टी को एक नई दिशा दी है। इस दिशा को ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के तहत हर गांव, बूथ और घर-घर तक पहुंचाना है। जनता के सामने केंद्र और प्रदेश सरकार की कुनीतियों को उजागर करना है। उन्होंने कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा सरकार ने हरियाणा को पूरे देश में विकास के मामले में नंबर वन राज्य बनाया था। इसलिए प्रदेश में फिर से कांग्रेस सरकार बनाकर इसे नंबर वन राज्य बनाना है।

बैठक को संबोधित करते हुए चौधरी उदयभान ने कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से प्रदेश में कांग्रेस को जबरदस्त मजबूती मिली है। इसके ठीक बाद शुरू हो रहा ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान 2024 में कांग्रेस की जीत का रास्ता प्रशस्त करेगा। क्योंकि केंद्र की बीजेपी और हरियाणा की बीजेपी-जेजेपी सरकार ने हर वर्ग के साथ विश्वासघात किया है। उन्होंने बताया कि 26 तारीख से पूरे देश में विधिवत तौर पर अभियान की शुरुआत होगी। हरियाणा में भी 31 तारीख तक सभी ब्लॉक में मीटिंग हो जाएंगी। यह कार्यक्रम 2 महीने तक चलेगा और इस दौरान कांग्रेस जनता को सरकार की नाकामियों बारे बताएगी। साथ ही कांग्रेस द्वारा सरकार के खिलाफ तैयार की गई चार्जशीट जनता तक पहुंचाई जाएगी। क्योंकि बीजेपी सरकार ने सत्ता में आने से पहले जो वादे किए थे, सत्ता में आने के बाद ठीक उसके विपरीत काम किए हैं। इस सरकार की अबतक यही नीति रही है- कुछ का साथ, खुद का विकास और सबके साथ विश्वासघात।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को कामयाब बनाने के लिए बैठक में मौजूद सभी नेता व कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यात्रा में हर जगह लाखों लोगों की भागीदारी ने साबित कर दिया कि जनता कांग्रेस को विकल्प के तौर पर देख रही है। उन्होंने सभी से ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान में भी यात्रा जैसे उत्साह और मेहनत के साथ जुटने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पार्टी नेता व कार्यकर्ता जनता के बीच में जाएं तो ना सिर्फ उनकी समस्याओं के बारे में जानें बल्कि यह भी बताएं कि भविष्य में कांग्रेस सरकार बनने पर किस तरह के फैसले लिए जाएंगे। उदाहरण के तौर पर कार्यकर्ता गांव और बूथ स्तर पर जाएं तो पता करें कि बीजेपी-जेजेपी सरकार ने किसका राशन कार्ड और किसकी पेंशन काटी है। ताकि कांग्रेस सरकार बनने के बाद उसे फिर से बहाल किया जा सके।

हुड्डा ने पत्रकारों को बताया कि आज बैठक में गन्ना किसानों के समर्थन और सरकार द्वारा रेट में नाममात्र बढ़ोतरी के विरोध में एक निंदा प्रस्ताव पास किया गया। उन्होंने कहा कि किसान 450 रुपये प्रति क्विंटल रेट की मांग कर रहे हैं। उनकी मांग पूरी तरह जायज है। सरकार को कम से कम 400 रुपये रेट तो बिना देरी के कर देना चाहिए। उन्होंने याद दिलाया कि कांग्रेस कार्यकाल के दौरान गन्ने के रेट में 165% की बढ़ोतरी हुई थी। लेकिन बीजेपी ने सवा 8 साल दौरान सिर्फ 20% की बढ़ोतरी की है। यह किसानों के साथ भद्दा मजाक है।