मान सरकार ने गौवंश को लम्पी स्किन बीमारी से बचाने के लिए खरीदीं 25 लाख डोज़: मंत्री लालजीत भुल्लर

चंडीगढ़: पंजाब के पशु पालन मंत्री लालजीत सिंह भुल्लर ने आज बताया कि मुख्यमंत्री भगवंत मान की सरकार ने लम्पी स्किन बीमारी से गौवंश के आगामी बचाव के लिए मैगा टीकाकरण मुहिम शुरु करने के लिए गोट पॉक्स वैक्सीन की 25 लाख डोज़ एयरलिफ्ट कर ली हैं। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष अन्य राज्यों से पंजाब में फैली इस बीमारी से पशु-धन का बहुत नुकसान हुआ था। यह बीमारी फिर राज्य में किसानी, पशु-धन और सम्बन्धित पेशों का नुकसान ना कर सके, इसलिए राज्य सरकार ने पहले ही योजना बनाई है।

कैबिनेट मंत्री ने बताया कि लम्पी स्किन बीमारी की रोकथाम और भविष्य की रणनीति बनाने के लिए गठित किए गए मंत्री समूह द्वारा लिए गए फ़ैसले के अनुसार 15 फरवरी, 2023 से राज्य स्तरीय मैगा टीकाकरण मुहिम शुरू की जा रही है और इसके लिए सभी प्रबंध मुकम्मल कर लिए गए हैं। करीब 45 दिन तक चलने वाली इस टीकाकरण मुहिम में 31 मार्च, 2023 तक राज्य के समूचे गऊधन का मुफ़्त टीकाकरण किया जाएगा।

पशु पालन मंत्री ने बताया कि तेलंगाना के सरकारी ‘‘स्टेट वैटरनरी बायोलॉजीकल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, हैदराबाद’’ से 25 लाख डोज़ खऱीद कर लुधियाना स्थित पंजाब वेटनरी वैक्सीन संस्था में स्टोर की गई हैं, जहाँ से इन डोज़ को अलग-अलग ज़िलों में भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि वैक्सीन को तेलंगाना से ट्रांसपोर्ट करते समय वैक्सीन की गुणवत्ता के लिए कोल्ड चेन बरकरार रखने का विशेस ध्यान रखा गया है।

मैगा टीकाकरण मुहिम के लिए किए गए प्रबंध
पशु पालन मंत्री स. लालजीत सिंह भुल्लर ने बताया कि टीकाकरण मुहिम को प्रभावशाली ढंग से लागू करने के लिए डायरैक्टोरेट में एक संयुक्त डायरैक्टर स्तर के अधिकारी को नोडल अफ़सर के तौर पर नियुक्त किया जा रहा है, जो रोज़ाना की प्रगति की निगरानी करेगा और तालमेल रखेगा। विभाग द्वारा पहले जारी हिदायतों के अनुसार पशु अस्पताल/संस्था स्तर पर टीमें बनाकर टीकाकरण किया जाएगा और टीकाकरण के दौरान कोल्ड चेन का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

उन्होंने बताया कि विभाग के प्रशासनिक ढांचे को मज़बूत करने के लिए दिसंबर 2022 में 77 वैटरनरी अफ़सरों को सीनियर वैटरनरी अफ़सरों/सहायक डायरेक्टरों के तौर पर तरक्की दी गई, जिससे समूचे पंजाब में ज़िला/तहसील स्तर पर टीकाकरण मुहिम और अन्य विभागीय योजनाओं का सुचारू निरीक्षण सुनिश्चित बनाया जा सके। टीकाकरण मुहिम के मद्देनजऱ विभाग द्वारा 418 वैटरनरी अफ़सरों की भर्ती प्रक्रिया तेज़ी से मुकम्मल की जा रही है।

गौरतलब है कि विषाणुओं से होने वाली लम्पी स्किन बीमारी ने जुलाई 2022 में राज्य के गऊधन को बड़े स्तर पर अपनी चपेट में ले लिया था। राज्य के सभी ज़िलों में करीब 1.75 लाख गऊधन प्रभावित हुआ था और इस समय के दौरान लगभग 18 हज़ार गऊधन की मौत हुई थी।

राज्य सरकार द्वारा लम्पी स्किन बीमारी की गंभीरता को देखते हुए और पशु पालकों की आर्थिकता बचाने के मकसद से वित्त मंत्री स. हरपाल सिंह चीमा, कृषि मंत्री स. कुलदीप सिंह धालीवाल और पशु पालन मंत्री स. लालजीत सिंह भुल्लर पर आधारित मंत्री समूह का गठन किया गया था। मंत्री समूह द्वारा गुरू अंगद देव वेटरनरी एंड एनिमल साइंस्ज़ यूनिवर्सिटी, लुधियाना के माहिरों और विभागीय अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें करके बीमारी से बचाव, पशुओं के इलाज और बीमारी के हमले को रोकने के लिए भविष्य की रणनीति बनाने के लिए उचित फ़ैसले लिए।

सरकार द्वारा पिछले वर्ष 1.54 करोड़ रुपए की लागत के साथ 10.16 लाख डोज़ एयर-लिफ़्ट किए गए और राज्य के 9.2 लाख योग्य गऊधन का मुफ़्त टीकाकरण किया गया। इसके अलावा प्रभावित पशुओं के इलाज के लिए ज़िलों को दवाओं की खऱीद के लिए 1.34 करोड़ रुपए की राशि जारी की गई।