Himachal Congress Shimla Himachal Pradesh

हिमाचल कांग्रेस हल्के में नहीं लेना चाहती उप चुनाव, मैदान में उतारे अपने योद्धा

शिमला: सूबे में होने वाले तीन उप चुनाव के लिए कांग्रेस ने भी अपने योद्धाओं को उतार दिया है। कांग्रेस ने मंडी लोकसभा, फतेहपुर व जुब्बल कोटखाई विधानसभा सीटों के उप चुनाव के लिए पर्यवेक्षक तैनात कर दिए हैं। साथ ही प्रदेश कांग्रेस के सह प्रभारी इनके साथ समन्वयक की भूमिका में होंगे। प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी राजीव शुक्ला ने प्रदेश कांग्रेस के दिग्गजों को इन चुनावों में बतौर पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। 

हिमाचल कांग्रेस उप चुनाव को हल्के में नहीं लेना चाहती। अगले साल प्रदेश में विधानसभा के चुनाव होने है। ऐसे में कांग्रेस व भाजपा के लिए यह चुनाव सत्ता का समीफाइनल माना जा रहा है। कांग्रेस ने तीन उप चुनाव की कमान पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को सौंपी है। उप चुनाव में कांग्रेस का मुकाबला सीधा सरकार के साथ होने है। लिहाजा कांग्रेस के बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा भी उप चुनाव में दांव पर लगी है। 

अहम बात यह है कि पार्टी में कोई गुटबाजी न हो इसके लिए कांग्रेस आलकमान ने सभी नेताओं को उप चुनाव में तरजीह दी है। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को चुनाव में पर्यवेक्षक की जिम्मेदारी सौंपी है। यहीं नहीं खुद कांग्रेस के सहप्रभारी संयज दत्त व गुरकीरत सिंह कोटली सभी नेताओं के साथ समन्वय स्थापित करेंगे। इसके अलावा कांग्रेस महासचिव रजनीश किमटा को चुनाव में बेहतर तालमेल बिठाने का जिम्मा सौंपा गया है। काबिलेगौर है कि चार नगर निगम के चुनाव में कांग्रेस का प्रदर्शन बेहतर रहा है। सोलन व पालमपुर नगर निगम में कांग्रेस ने परचम लहराया था। इससे कांग्रेस को ऑक्सीजन मिली है। अब प्रदेश में तीन उप चुनाव होने जा रहे है। ऐसे में कांग्रेस ने उप चुनाव में पूरी ताकत झौंकने की रणनीति तैयार की है।



Live TV

-->

Loading ...