FIR against SP under Epidemic Act

Lucknow : पुलिस ने सपा के खिलाफ महामारी एक्‍ट के तहत दर्ज किया FIR

लखनऊ : भाजपा के स्‍वामी प्रसाद मौर्य और डॉ. धर्म सिंह सैनी सहित कई भाजपा विधायकों ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव की उपस्थिति में पार्टी का दामन थामा। इस मौके पर अखिलेश यादव सहित कई नेताओं ने सम्बोधित किया। इस दौरान सपा कार्यालय में काफी भीड़ इकट्ठी हुई थी। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा कि इस मामले में एफ.आई.आर. दर्ज कर पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि इसमें नियम-कानून के अंतर्गत कार्रवाई की जाए। इस मामले में डी.एम. ने कहा कि समाजवादी पार्टी की रैली बिना अनुमति के हो रही है, पुलिस टीम एस.पी. कार्यालय भेजी, इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई की जाए। 

समाजवादी पार्टी के यूपी प्रमुख नरेश उत्तम पटेल ने एफ.आई.आर. दर्ज होने के बाद कहा कि हमारे पार्टी कार्यालय के अंदर एक वर्चुअल कार्यक्रम था, हमने किसी को फोन नहीं किया था। इस दौरान सभी ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया। साथ ही उन्होंने कहा कि इस वक्‍त भाजपा के मंत्रियों के दरवाजे और बाजारों में भी भीड़ है, लेकिन उन्हें बस हमसे समस्या है। यूपी के पूर्व मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने सपा पर एफ.आई.आर. दर्ज होने के बाद कहा कि बाउंड्री के अंदर 144 धारा लागू नहीं होती, कोरोना गाइडलाइन की बात है तो जांच करा लें।  

इस कार्यक्रम में स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि जिसका मैं साथ छोड़ता हूं उसका कोई वजूद नहीं रहता है। मायावती इसका जीता-जागता सबूत हैं। उन्‍होंने कांशीराम का नारा बदल दिया, तो मैंने उसका विरोध किया, लेकिन वह नहीं मानीं और आज उनका कोई वजूद नहीं है। उन्‍होंने कहा कि अखिलेश यादव पढ़े-लिखे नौजवान हैं और प्रदेश के लाखों लोगों का साथ हैं। हम उनके साथ मिलकर भाजपा को नेस्तनाबूद कर देंगे।

Live TV

Breaking News


Loading ...