ब्यास में गैंगस्टरों-दिल्ली पुलिस के बीच मुठभेड़, गैंगस्टर चीना काबू, राजन भट्टी भी गुरदासपुर से गिरफ्तार

अमृतसर: पंजाब के गैंगस्टरों को पकड़ने के लिए दिल्ली की एजेंसियां भी सक्रिय हैं। पहले गुरदासपुर के गैंगस्टर राजन भट्टी को गिरफ्तार किया गया उससे पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ कि अमृतसर के कस्बा ब्यास में स्थित एक होटल में गैंगस्टर छिपे हुए हैं। दिल्ली पुलिस के स्पैशल सैल द्वारा जब छापामारी की गई तो एनकाऊंटर हुआ। इस एनकाऊंटर में दिल्ली पुलिस का एक कांस्टेबल घायल हुआ। मौके पर एक गैंगस्टर कंवलजीत सिंह को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए दोनों गैंगस्टर राजन और कंवलजीत पुलिस के हिस्ट्रीशीटर हैं। हत्या, हत्या प्रयास और आर्म एक्ट के केसों में वांटेड हैं।

यह गैंगस्टर विदेश में बैठे लखबीर सिंह लंडा के इशारे पर हथियारों की तस्करी कर रहे थे। पंजाब में उन्हें 2 टारगैट किलिंग का जिम्मा सौंपा गया था। दिल्ली पुलिस की इस कार्रवाई के बाद पंजाब में खून-खराबा होने की कई वारदातें टल गई हैं। दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी मनीषी चंद्रा ने इस बात की पुष्टि की है। दूसरी तरफ डीएसपी बाबा बकाला हरिकशन सिंह ने इस मामले में कुछ भी बोलने से इंकार किया। दिल्ली पुलिस के सब इंस्पैक्टर मनजीत ने बताया कि स्पैशल सैल द्वारा 5 जनवरी 2023 को हथियारों की तस्करी करने के आरोप में दर्ज किए गए केस में कुछ गैंगस्टर नामजद किए गए थे। उनकी टीम ने इस केस से संबंधित गैंगस्टर राजन भट्टी को गिरफ्तार किया। उससे सूचना मिली थी ब्यास में स्थित ढाबा चौका चुल्हा में वांटेड गैंगस्टर छिपे हुए हैं।

शुक्रवार की रात 1:30 बजे उन्होंने अपनी टीम के साथ होटल में छापामारी की। जब ढाबे में सर्च चल रही थी तो वहां छिपे गैंगस्टर कंवलजीत सिंह उर्फ चीना वासी वार्ड नंबर 5 ठुकराल स्ट्रीट कस्बा मक्खू जिला फिरोजपुर और परमिंदर सिंह उर्फ पप्पू वासी गांव सठियाला अमृतसर दूसरे दरवाजे से होते हुए बाहर की तरफ भागे। पुलिस ने दोनों का पीछा किया। दोनों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस द्वारा जवाबी फायरिंग की गई। गैंगस्टर की तरफ से चलाई गई गोली कांस्टेबल योगेश के पांव में लगी। इस दौरान पुलिस ने एक गैंगस्टर कमलजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया। दूसरा गैंगस्टर परमिंदर मौके से फरार हो गया। पकड़े गए आरोपी से 1 कार, 1 पिस्टल, 3 जिंदा कारतूस बरामद किए गए। भट्टी ड्रोन से मंगाता था नशीले पदार्थ और हथियार : पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि गैंगस्टर राजन भट्टी पाकिस्तान से ड्रोन द्वारा हथियार और नशीले पदार्थ मंगवा रहा था। पकड़े गए दूसरे गैंगस्टर कवलजीत सिंह को निर्देश देता था कि पाकिस्तान से आए हत्यार और नशे की खेप को कहां-कहां सप्लाई करना है।