अमेरिकी वायु सेना ने दुनिया के सामने पेश किया B-21 लड़ाकू विमान, न्यूक्लियर व पारंपरिक हथियारों को ले जाने में होंगे सक्षम

अमेरिकी वायु सेना ने 30 साल बाद बी-21 रेडर लड़ाकू विमान को दुनिया के सामने पेश किया। नए हर एक लड़ाकू विमान की कीमत 700 मिलियन डॉलर होगी और ये न्यूक्लियर और पारंपरिक हथियारों को ले जाने में सक्षम होंगे। ये लड़ाकू विमान धीरे धीरे बी1 और बी2 मॉडल की जगह लेंगे। अमेरिकी वायु सेना.

अमेरिकी वायु सेना ने 30 साल बाद बी-21 रेडर लड़ाकू विमान को दुनिया के सामने पेश किया। नए हर एक लड़ाकू विमान की कीमत 700 मिलियन डॉलर होगी और ये न्यूक्लियर और पारंपरिक हथियारों को ले जाने में सक्षम होंगे। ये लड़ाकू विमान धीरे धीरे बी1 और बी2 मॉडल की जगह लेंगे।

अमेरिकी वायु सेना ने जानकारी देते हुए बताया कि बी-21 रेडर एक दोहरी सक्षम, मर्मज्ञ-स्ट्राइक स्टील्थ बमवर्षक होगा, जो पारंपरिक और परमाणु दोनों तरह के युद्ध सामग्री देने में सक्षम होगा। B-21, B-21s और B-52s से मिलकर भविष्य की वायु सेना के बमवर्षक बल की रीढ़ बनेगा।

Author

- विज्ञापन -

Latest News