महामारी के खिलाफ तीन साल की लड़ाई में China ने दुनिया के लिए क्या किया है?

Spread the News

चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक चीन के विभिन्न स्थलों में फीवर क्लीनिक,आपातकालीन विभाग और अस्पताल में गंभीर रूप से बीमार मरीज सभी चरम अवधि को पार कर चुके हैं। लोग और सुरक्षित रूप से वसंत महोत्सव का स्वागत करते हैं। यह सब न केवल चीन की वैज्ञानिक और सटीक महामारी की रोकथाम के कारण हुआ है, बल्कि कोविड-19 महामारी से लड़ने में चीन की उल्लेखनीय प्रभावशीलता भी देखी गई है। पिछले तीन वर्षों में चीन सरकार ने हरेक चीनियों की जीवन सुरक्षा और शारीरिक स्वास्थ्य की रक्षा करने का पूरा प्रयास किया। 140 अरब से ज्यादा आबादी होने वाले बड़े देश के रूप में यह वैश्विक महामारी रोधी कार्य के लिए एक सक्रिय योगदान है। जब कोविड-19 कीमूल वायरस और डेल्टा उत्परिवर्ती वायरस के व्यापक रूप से फैलता था, चीन ने प्रबल महामारी-रोधी कदम उठाये और अंतर्राष्ट्रीय महामारी मुकाबला कार्य के लिए मूल्यवान समय की किफायत की।

पिछले तीन वर्षों में, चीन ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ खुले तौर पर और पारदर्शी रूप से महामारी की जानकारी साझा की है, और महामारी की रोकथाम और नियंत्रण के लिए वैज्ञानिक आधार प्रदान किया है। चीन ने समय पर डब्ल्यूएचओ को महामारी की रिपोर्ट की, रोग ज़नक़ की पहचान की, वायरस के जीन अनुक्रम को साझा किया, और निदान और उपचार, और रोकथाम और नियंत्रण योजना को जारी किया। ये सब ने वैश्विक महामारी की लड़ाई के प्रति चीन की प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं।

वर्तमान में, चीन ने 150 से अधिक देशों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों को कोविड-19 टीकों की 2.2 अरब से अधिक खुराकों की आपूर्ति की है, 153 देशों और 15 अंतर्राष्ट्रीय संगठनों को सैकड़ों अरबों की महामारी-रोधी सामग्रियां प्रदान की हैं, और 34 देशों को 38 महामारी-विरोधी चिकित्सा विशेषज्ञ दल भेजे हैं। वैश्विक महामारी विरोधी सहयोग में मदद करने और मानव स्वास्थ्य समुदाय के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए यह चीन की व्यावहारिक कार्रवाई है।

आर्थिक दृष्टिकोण से, पिछले तीन वर्षों में, चीन ने महामारी की रोकथाम और नियंत्रण और आर्थिक व सामाजिक विकास के सटीक और कुशल समन्वय के मार्ग पर चला, और विश्व आर्थिक सुधार का “लोकोमोटिव” बन गया है। पिछले तीन वर्षों में, महामारी के प्रभाव,एक पक्षवाद और संरक्षणवाद के उदय के सामने, चीन ने सक्रिय रूप से अपने खुलेपन का विस्तार किया है और वैश्विक औद्योगिक और आपूर्ति श्रृंखलाओं की स्थिरता को प्रभावी ढंग से बनाए रखा है।

महामारी के खिलाफ तीन वर्षों की लड़ाई में दुनिया के लिए चीन का योगदान सभी के लिए स्पष्ट है।चाहे कुछ पश्चिमी राजनेता और मीडिया कितना भी बदनाम करें और कलंकित करें, वे इस तथ्य को खत्म नहीं कर पाएंगे। वर्तमान में, विश्व में महामारी अभी भी खत्म नहीं हुई है। एक साथ मिलकर काम करने से ही सभी देश जल्द से जल्द धुंध से बाहर निकल सकते हैं।

(साभार—चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)