तरनतारन में रॉकेट लांचर से हमला: थोड़ी देर में घटनास्थल पर पहुंचेंगे DGP Gaurav Yadav, हालातों का लेंगे जायजा

तरनतारन: तरनतारन जिले में RPG प्रयोग कर एक बार फिर से पुलिस को निशाना बनाया गया है। बीती रात करीब एक बजे अमृतसर-बठिंडा हाईवे पर स्थित सरहाली थाने के साथ बने सांझ केंद्र में रॉकेट लांचर से हमला किया गया। हालांकि हमले में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। वहीं थोड़ी ही देर.

तरनतारन: तरनतारन जिले में RPG प्रयोग कर एक बार फिर से पुलिस को निशाना बनाया गया है। बीती रात करीब एक बजे अमृतसर-बठिंडा हाईवे पर स्थित सरहाली थाने के साथ बने सांझ केंद्र में रॉकेट लांचर से हमला किया गया। हालांकि हमले में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। वहीं थोड़ी ही देर में डीजीपी गौरव यादव घटनास्थल पर पहुंचेंगे और हालातों का जायजा लेंगे।

RPG नहीं फटा लेकिन टूटे शीशे

पुलिस अधिकारियों के अनुसार हमले में RPG तो नहीं फटा लेकिन थाने के एक हिस्से में बने सांझ केंद्र के शीशे टूट गए। जहां से शीशा टूटा है उस जगह को फोरेंसिक जांच के लिए सील कर दिया गया है।

आंतकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने ली जिम्मेदारी

वहीं अब इस हमले की आंतकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने जिम्मेदारी ली है। खबरों की मानें तो पन्नू ने एक वॉयस नोट के जरिए इस हमले की जिम्मेदारी ली है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो पन्नू का कहना है कि यह हमला बीते दिन हुए जालंधर के लतीफपुरा में कार्रवाई का बदला है। पन्नू ने कहा कि 1947 में पाकिस्तान से आकर बसे परिवारों को पंजाब सरकार ने बेघर किया है। पंजाब में हर घर में रॉकेट लांचर व बम पहुंच चुके हैं। पंजाब को भारत की हकूमत से आजादी दिलाएंगे। बता दें कि इससे पहले 6 मई को मोहाली में भी आरपीजी हमला किया गया था।

Author

- विज्ञापन -

Latest News