ब्रिटेन के मेडिकल कर्मियों ने 100 से अधिक वर्षों में पहली बार की हड़ताल

लंदन: ब्रिटेन में निवास की बढ़ती लागत के कारण इंग्लैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड में नर्सें वेतन वृद्धि की मांग को लेकर ऐतिहासिक हड़ताल में शामिल हो रही हैं। द गार्डियन के अनुसार ब्रिटेन के सबसे बड़े नर्सिंग यूनियन रॉयल कॉलेज ऑफ़ नर्सिंग (आरसीएन) के 106 साल के इतिहास में यह पहली हड़ताल है। हड़ताल.

लंदन: ब्रिटेन में निवास की बढ़ती लागत के कारण इंग्लैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड में नर्सें वेतन वृद्धि की मांग को लेकर ऐतिहासिक हड़ताल में शामिल हो रही हैं।

द गार्डियन के अनुसार ब्रिटेन के सबसे बड़े नर्सिंग यूनियन रॉयल कॉलेज ऑफ़ नर्सिंग (आरसीएन) के 106 साल के इतिहास में यह पहली हड़ताल है। हड़ताल में मुद्रास्फीति के ऊपर पांच प्रतिशत की वेतन वृद्धि प्राप्त करने के लिए एक लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मचारियों के इसमें भाग लेने की उम्मीद है। सांध्यकालीन स्टैंडर्ड अखबार ने सप्ताह की शुरुआत में बताया कि हड़ताल ब्रिटेन के विभिन्न हिस्सों में हो रही है। जबकि स्कॉटलैंड में स्वास्थ्य सेवा संघों ने हड़ताल को समाप्त करने का निर्णय लिया और स्कॉटलैंड के पहले मंत्री निकोला स्टर्जन के प्रस्तावित वेतन वृद्वि को स्वीकार किया।

रिपोटरें के अनुसार 20 दिसंबर को हजारों नर्सों के भी हड़ताल पर जाने की उम्मीद है। जिससे महीनों से ब्रिटेन नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) के सामने कर्मचारियों की कमी की समस्या को बढ़ा सकती है। विरोध प्रदर्शन ब्रिटेन के अस्पतालों के काम में बड़ी रुकावट पैदा कर सकते हैं। सरकार ने आधिकारिक तौर पर सेना से स्वास्थ्य सेवाओं का समर्थन करने का अनुरोध किया है। प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने नवंबर में कहा कि नर्सों और अन्य एनएचएस श्रमिकों के लिए उनके मन में बहुत सम्मान है, लेकिन वर्तमान परिस्थितियों में वेतन वृद्धि के लिए उनकी मांगे स्पष्ट रुप व्यवहारिक नहीं है।

 

Author

- विज्ञापन -

Latest News