Punjab Vigilance Bureau ने अवैध रूप से 4 लाख रुपए की ऋण राहत लेने के आरोप में पटवारी और 2 किसानों को किया गिरफ्तार

गलत शपथ पत्र प्रस्तुत करने पर पटवारी और 3 किसानों के खिलाफ मामला दर्ज किया।

चंडीगढ़ (दिनेश) : पंजाब विजिलेंस ब्यूरो (वीबी) ने गलत हलफनामा दाखिल करके पंजाब सरकार से 4,02,222 रुपए की कर्ज राहत लेने के आरोप में एक राजस्व पटवारी और 2 किसानों को गिरफ्तार किया है। राज्य वीबी के एक आधिकारिक प्रवक्ता ने आज यहां यह खुलासा करते हुए कहा कि यह मामला बलकार सिंह, पटवारी, राजस्व हलका हमीरगढ़, जो अब तहसील कार्यालय भवानीगढ़, संगरूर जिले में तैनात है, और न्यू ऑफिसर कॉलोनी पटियाला का निवासी है, के खिलाफ जांच के आधार पर दर्ज किया गया है। इसके अलावा गांव हमीरगढ़ के दो निजी व्यक्तियों राम सिंह और सुरिंदर सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया गया है और तीसरे आरोपी किसान हरदेव सिंह हमीरगढ़ को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

अधिक जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि उपरोक्त सभी किसानों के पास विधिवत रूप से 5 एकड़ से अधिक कृषि भूमि है और वे पिछली सरकार द्वारा प्रदान की गई ऋण राहत का लाभ पाने के पात्र नहीं थे। इन आरोपियों ने पटवारी के साथ मिलकर लाभ लेने के लिए कृषि विभाग में झूठा शपथ पत्र दाखिल किया है। जांच के दौरान यह बात सामने आई कि उक्त पटवारी ने इन किसानों की जमीनों के संबंध में पोर्टल पर वास्तविक रिपोर्ट अपलोड नहीं की और उन्हें अवैध ऋण राहत मिल गई।

यह पाया गया कि राम सिंह को 1,28,249 रुपए, सुरिंदर सिंह को 96,258 रुपए और हरदेव सिंह को 1,77,716 रुपए की कर्ज राहत मिली थी। इस तरह सभी आरोपियों ने सरकारी खजाने को 4,02,222 रुपए का नुकसान पहुंचाया हैं। उन्होंने आगे बताया कि वीबी पुलिस स्टेशन पटियाला रेंज ने उपरोक्त सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और आगे की जांच जारी है।

Author

- विज्ञापन -

Latest News