कोरोना से पीड़ित होने के बाद अधिकांश महिलाओं में सैक्स के प्रति रूचि हुई कम!

एक अध्ययन में सामने आया है कि कोरोना से पीड़ित होने के बाद अधिकांश महिलाओं में सैक्स के प्रति रूचि कम हो चुकी है। जर्नल ऑफ सैक्सुअल मैडिसन में प्रकाशित 2,000 से अधिक सिजैंडर महिलाओं के अध्ययन

सान फ्रांसिस्को: एक अध्ययन में सामने आया है कि कोरोना से पीड़ित होने के बाद अधिकांश महिलाओं में सैक्स के प्रति रूचि कम हो चुकी है। जर्नल ऑफ सैक्सुअल मैडिसन में प्रकाशित 2,000 से अधिक सिजैंडर महिलाओं के अध्ययन में पाया गया कि कोरोनो वायरस रोग यौन क्रिया को खराब कर सकता है। इसमें लंबे समय तक रहने वाला कोविड उल्लेखनीय रूप से हानिकारक प्रभाव डालता है।

अमरीका स्थित बोस्टन यूनिवर्सिटी में सहायक प्रोफैसर अमेलिया एम. स्टैंटन ने कहा, यदि आप कोविड से बीमार हैं, तो संभवत: आपकी सैक्स में रुचि कम है और हो सकता है कि आपका शरीर सैक्स करने के लिए कम तैयार हो। कुछ लोगों के लिए यह आश्चर्य की बात हो सकती है कि लंबे समय तक रहने वाले कोविड लक्षण वास्तव में महिलाओं के यौन स्वास्थ्य पर शारीरिक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव डाल सकते हैं।

कोविड के प्रभाव का पता लगाने के लिए शोधकर्ताओं ने एक ऑनलाइन सर्वेक्षण किया, इसमें भाग लेने वाली लगभग आधी महिलाओं ने बताया कि उन्हें कभी भी कोविड नहीं हुआ था और बाकी ने कहा कि उनका परीक्षण सकारात्मक था। उन्होंने पाया कि जिन लोगों को कोविड था, उनमें इच्छा, उत्तेजना, स्नेह और संतुष्टि का स्तर उन लोगों की तुलना में कम था, जिन्हें कोविड नहीं था। दोनों समूहों के बीच कामोत्तेजना और दर्द का स्कोर बहुत अलग नहीं था।

Author

- विज्ञापन -

Latest News